• Home
  • Jharkhand News
  • Domchanch
  • ई-नेम से जुड़कर 470 मंडी में अपने उत्पाद बेच सकते हैं किसान
--Advertisement--

ई-नेम से जुड़कर 470 मंडी में अपने उत्पाद बेच सकते हैं किसान

भास्कर न्यूज | झुमरी तिलैया कृषि उपज के उचित मार्केटिंग के लिए मंगलवार को कृषि उत्पादन बाजार समिति ने एक दिवसीय...

Danik Bhaskar | Jan 17, 2018, 02:30 AM IST
भास्कर न्यूज | झुमरी तिलैया

कृषि उपज के उचित मार्केटिंग के लिए मंगलवार को कृषि उत्पादन बाजार समिति ने एक दिवसीय प्रशिक्षण व जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया। प्रशिक्षण व जागरूकता कार्यक्रम का उद्घाटन बतौर मुख्य अतिथि अपर समाहर्ता प्रवीण गागराई व विशिष्ट अतिथि एसडीओ प्रभात कुमार बरदियार ने संयुक्त रूप से किया। आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि गगराई ने कहा कि योजना का ऑनलाइन लाभ प्रशिक्षण के जरिए उठाएं। उन्होंने कहा कि ई-नेम योजना के जरिए किसान अपनी उपज को घर बैठे ही कहीं भी बेच सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस योजना से बेचने वाले, खरीदने वाले से लेकर आम आदमी तक इसका फायदा होगा। वहीं एसडीओ बरदियार ने कहा कि इस व्यवस्था से थोक व्यापारी को तो फायदा होगा साथ ही साथ किसानों को भी इसका फायदा है। कार्यक्रम में बतौर प्रशिक्षक राज्य समन्वयक संतोष कुमार ने प्रोसेसर्स और एक्सपोर्टर्स को ई-नेम के फायदे, ई-नेम की विशेषताएं तथा योजना में शामिल होने के लिए प्रोजेक्टर के जरिए विस्तृत रूप से प्रकाश डाला।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय कृषि बाजार में 14 राज्यों की 470 मंडी एक दूसरे से जुड़ी हुई है। वहीं झारखंड में 19 मंडी इस व्यापार के तहत एक दूसरे से जुड़े हुए है। कार्यक्रम को नाबार्ड के डीडीएम हरिदत्त पोद्दार, डोमचांच प्रमुख सत्यनारायण यादव, बीडीओ मिथलेश कुमार चौधरी, नप के कार्यपालक पदाधिकारी पंकज झा व छोटे लाल सिंह ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन बाजार पर्यवेक्षक तपन प्रकाश सिंह ने किया। आभार प्रकट बाजार समिति के सचिव अभिषेक आनंद ने की।