दुल्मी

  • Home
  • Jharkhand News
  • Dulmi
  • गोद भराई व मुंहजुट्ठी कर दी स्वास्थ्य की जानकारी
--Advertisement--

गोद भराई व मुंहजुट्ठी कर दी स्वास्थ्य की जानकारी

ग्रामीण क्षेत्र में महिलाएं गर्भवती होने के बावजूद अन्य दिनों की तरह कार्य करती हैँ और स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं...

Danik Bhaskar

Jul 03, 2018, 02:30 AM IST
ग्रामीण क्षेत्र में महिलाएं गर्भवती होने के बावजूद अन्य दिनों की तरह कार्य करती हैँ और स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं देती हैं। जिसके कारण उनके पेट में पल रहे बच्चें और मां के स्वास्थ्य पर असर पड़ता है। वहीं परिवार के अन्य सदस्यों द्वारा भी उनके खान-पान और साफ-सफाई पर ध्यान नहीं दिया जाता है। जिससे महिला और बच्चे के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। यह दिक्कतें जानकारी के अभाव में आती है। यह बातें उसरा मुखिया शैलेश चौधरी ने कही। वह सोमवार को उसरा पंचायत के बांसाडीह आंगनबाड़ी केंद्र में समेकित बाल विकास परियोजना द्वारा आयोजित गर्भवती महिलाओं के गोद भराई और छह माह के बच्चों की मुंहजुट्ठी कार्यक्रम के तहत बता रहे थे। उन्होंने बताया कि गोद भराई और मुंहजुट्ठी कार्यक्रम के तहत महिलाओं और उनके परिजनों को उनके स्वास्थ्य और स्वच्छता के बारे में जानकारी विभाग के पदाधिकारियों द्वारा दी जा रही है। इस दौरान आंगनबाड़ी केंद्र की सेविका सावित्री देवी, सहिया सविता देवी व सहायिका प्रमिला देवी, ग्रामीण डुमनी देवी, साखो देवी, रीता कुमार,ी नुनीबाला कुमारी, शीला देवी, प्रभा देवी, सुशीला देवी, कुमारी राजनी मौजूद थी।

दुलमी की ग्रामीण महिलाआंे को मुखिया ने दी समेकित बाल विकास परियोजना की योजनाओं की जानकारी

गर्भावस्था के दौरान खान-पान पर विशेष ध्यान देने को कहा गया

छह माह के शिशु की मुंहजुट्ठी करते मुखिया शैलेश व मौजूद अन्य।

Click to listen..