• Home
  • Jharkhand News
  • Dumaria
  • चार दिनों बाद खेत में मिला गायब महेंद्र टुडू का शव
--Advertisement--

चार दिनों बाद खेत में मिला गायब महेंद्र टुडू का शव

डुमरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत कांटाशोल के करकटगोड़ा टोला निवासी शनिवार से गायब महेंद्र टुडू (4) का शव मंगलवार को...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:15 AM IST
डुमरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत कांटाशोल के करकटगोड़ा टोला निवासी शनिवार से गायब महेंद्र टुडू (4) का शव मंगलवार को बरामद हो गया। शव को हाड़दा और लुपूडुंगरी गांव के बीच खेत के मेढ़ पर घास के अंदर छुपा दिया गया था। शव मिलने की जानकारी मिलते ही सैकड़ों ग्रामीण उक्त स्थल पर पहुंच गए। कांटाशोल पंचायत की मुखिया मालती मुर्मू के साथ ग्रामीणों ने शव को खोज निकाला। मुआवजे की मांग पर ग्रामीणों ने 4 घंटे तक शव को उठने नहीं दिया। ग्रामीण 25 लाख नकद, प्रधानमंत्री आवास, माता पिता के अलावा 5 ग्रामीणों को एसपीओ बहाल करने, सुनाराम मुर्मू की बेटी को नवोदय विद्यालय में भर्ती कराने की मांग प्रशासन से की। बीडीओ मृत्युंजय कुमार, डीएसपी अजीत कुमार विमल ने ग्रामीणों से वार्ता की। तत्काल सहायता के रूप मे 6 हजार 800 रुपए दिए गए। साथ ही ग्रामीणों की मांग को उच्च अधिकारियों तक भेजने का आश्वासन बीडीओ ने दिया। इसके बाद ग्रामीणों ने शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाने दिया। वार्ता में कांटाशोल की मुखिया मालती मुर्मू, शंकर चंद्र हेंब्रम, भगत बास्के समेत अन्य ग्रामीण उपस्थित थे।

शनिवार से गायब था महेंद्र

करकटगोड़ा टोला के सुनाराम टुडू का पुत्र बीते शनिवार शाम से लापता था। पड़ोस के ही चाची रिंटी टुडू पर ग्रामीणों को शक हुआ तो रविवार को पुलिस को सूचना दी गई। आरोपी रिंटी टुडू ने पुलिस को बच्चे की हत्या के बाद कुएं में शव फेंकने की बात कही थी। पुलिस ने कुएं के पानी को मोटर लगाकर सुखाया, लेकिन शव नही मिला। बच्चे के कपड़े और चप्पल ही बरामद हो पाए। इसके बाद उग्र ग्रामीणों के बीच से मुश्किल से पुलिस ने रिंटी टुडू को हिरासत में लेकर लौटी। सोमवार को पुलिस ने सीआरपीएफ और जिला पुलिस के दो खोजी कुत्ते की मदद से शव को खोजने की कोशिश की। लेकिन सफलता नही मिली। मंगलवार को उग्र ग्रामीणों ने डुमरिया थाने का घेराव किया था। शव को जल्द खोज निकालने की मांग पुलिस से की थी। आखिरकार ग्रामीणों के प्रयास से ही शव को बरामद किया जा सका।