फतेहपुर

  • Home
  • Jharkhand News
  • Fatehpur
  • राजमहल में व्यवसायी के घर डकैती मामले में दो गिरफ्तार, लूटे गए जेवरात भी बरामद
--Advertisement--

राजमहल में व्यवसायी के घर डकैती मामले में दो गिरफ्तार, लूटे गए जेवरात भी बरामद

राजमहल पुलिस ने कुछ दिन पूर्व हुए भीषण डकैती कांड का उद्भेदन करने का दावा किया है। बीते 20/21 मार्च की देर रात राजमहल...

Danik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:35 AM IST
राजमहल पुलिस ने कुछ दिन पूर्व हुए भीषण डकैती कांड का उद्भेदन करने का दावा किया है। बीते 20/21 मार्च की देर रात राजमहल थाना के लालमाटी ग्राम में व्यवसायी भाईयों प्रमोद चौधरी और विनोद चौधरी के घर भीषण डकैती कांड मामले में पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए घटना में संलिप्त दो अपराधियों को धर दबोचा है। उक्त संदर्भ में एसडीपीओ सुनील कुमार सिंह ने अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बताया कि उक्त कांड को लेकर पीड़ित प्रमोद चौधरी के बयान पर कांड संख्या 68/18 अंकित किया गया था। एसडीपीओ सुनील कुमार सिंह के नेतृत्व में थाना प्रभारी राजमहल सुशील कुमार, थाना प्रभारी कोटालपोखर मनोज कुमार, पुअनि राजमहल थाना प्रभारी तीनपहाड़, थाना प्रभारी तालझारी रामहरिश निराला एवं सअनि राजमहल रूदल सिंह की छह सदस्यीय टीम गठित की गई। निरंतर छापेमारी के उपरांत तालझारी थाना क्षेत्र के मसकलैया फतेहपुर से प्रकाश मंडल एवं सुखदेव मंडल को लूट के 21701 रुपए और एक जोड़ी सोने का कान की बाली, एक नाक का छुछी, एक सोने का छोटा टुकड़ा, तीन चांदी का टुकड़ा, एक जोड़ा चांदी का पायल, एक चांदी का चेन, एक चांदी का बाला, तीन पीस चांदी का जोड़ा पीन, एक चांदी का लॉकेट, एक चांदी की अंगुठी, एक जोड़ा सोना का कान की बाली, चार सोने का छोटा टुकड़ा एवं एक पीस चांदी का टुकड़ा के साथ गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता प्राप्त किया। इस क्रम में बताया गया कि गिरफ्तार प्रकाश और सुखदेव के पास से क्रमशः 6080 रुपए और 4680 रुपए बरामद किया गया, जबकि फरार अभियुक्तों उसी ग्राम के चैता मंडल और जागेश्वर मंडल के घर से बाकी रकम और आभूषण बरामद हुए। एसडीपीओ ने बताया कि इनलोगों ने ही घटना में संलिप्त बिहार-बंगाल क्षेत्र के अन्य अपराधकर्मियों को शरण देकर पीड़ित व्यवसायी परिवार के दुकान और घर की कई दिनों तक रेकी कराई थी।

श्री सिंह ने बताया कि घटना के पश्चात पुलिस को बम और बम बनाने की सामाग्री के साथ कई अखबार के टुकड़े मिले थे, जिससे यह स्पष्ट हो गया था कि उक्त कांड में झारखंड और बिहार के साथ-साथ पश्चिम बंगाल के भी अपराधी गिरोह का हाथ है। उन्होंने पत्रकारों को बताया कि झारखंड, बिहार और पश्चिम बंगाल की सीमा पर एक नए अपराधिक गिरोह बनाया गया है। जिसका सरगना लालू सैनी उर्फ संजू बाबा उर्फ लालू रविदास है। श्री सिंह ने बताया कि घटना में संलिप्त सभी अपराधियों को चिन्हित कर लिया गया है तथा पुलिस जल्द ही सभी अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त कर लेगी।

गिरफ्तार आरोपी व जब्त सामाग्री।

Click to listen..