Hindi News »Jharkhand »Galudih» इलाज के नहीं थे पैसे, परिजन अस्पताल से मरीज को ले आए थे घर, हो गई मौत

इलाज के नहीं थे पैसे, परिजन अस्पताल से मरीज को ले आए थे घर, हो गई मौत

गालूडीह के बागालगोड़ा के एक होनहार युवक की पैसे और इलाज के अभाव में मौत हो गई। सरकारी अस्पताल व्यवस्था फेल रहने के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 01, 2018, 03:15 AM IST

इलाज के नहीं थे पैसे, परिजन अस्पताल से मरीज को ले आए थे घर, हो गई मौत
गालूडीह के बागालगोड़ा के एक होनहार युवक की पैसे और इलाज के अभाव में मौत हो गई। सरकारी अस्पताल व्यवस्था फेल रहने के कारण उसे जमशेदपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। तीन दिनों के अंदर उसका बिल 80 हजार के पार हो गया। परिजन घर के जेेवरात, बैल व बकरी बेचकर बिल तो चुका दिया पर मरीज को बिना ठीक हुए घर वापस ले आए। यहां इलाज के अभाव में उसने दम तोड़ दिया। गालूडीह थाना क्षेत्र की जोड़िसा पंचायत के बागालगोड़ा निवासी रवींद्र नाथ महतो के पुत्र तपन महतो (30) का मंगलवार की देर रात इलाज के अभाव में मौत हो गई। सरकारी अस्पताल गालूडीह का हाल खस्ता है। इस संबंध में तपन महतो के परिजनों ने बताया कि 24 फरवरी को तपन को पेट दर्द की शिकायत हुई थी। उसके बाद उसे गालूडीह के निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था। बाद में चिकित्सकों ने उसे टीएमएच रेफर कर दिया। टीएमएच में जगह नहीं मिलने पर उसे निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया। जिसमें तीन दिनों में नर्सिंग होम ने 80 हजार रुपए का बिल बना दिया। आगे अस्पताल का बिल चुकाने में असमर्थ होने के कारण परिजन सोमवार को 2 बजे अस्पताल से घर ले आए। रात को रवींद्रनाथ ने दम तोड़ दिया। अगर उसके पास पैसे होते तो उसकी जान बच सकती थी। उसकी मृत्यु से पूरा गांव शोकाकुल है, मंगलवार को उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। रवींद्र अपने पीछे प|ी कल्याणी महतो व पुत्री मधुमिता महतो को छोड़ गए हैं।

सरकार ऐसी व्यवस्था करे जिससे गरीब की भी जान बच सके : कल्याणी

मृतक की प|ी कल्याणी महतो ने कहा कि उसके पति की मौत केवल पैसे केे अभाव में हो गई। वह जीवन भर के दुख देकर चले गए। सरकार कोई ऐसी व्यवस्था करें ताकि किसी गरीब की जान पैसे के अभाव में नहीं जा सके। पति के इलाज में सब कुछ बेच दिया, पर कोई फायदा नहीं हुआ।

प|ी कल्याणी व पुत्री मधुमिता महतो।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Galudih News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: इलाज के नहीं थे पैसे, परिजन अस्पताल से मरीज को ले आए थे घर, हो गई मौत
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Galudih

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×