• Home
  • Jharkhand News
  • Gandey
  • दलित-आदिवासी उत्पीड़न कानून में संशोधन पर हुई चर्चा
--Advertisement--

दलित-आदिवासी उत्पीड़न कानून में संशोधन पर हुई चर्चा

गांडेय | गांडेय प्रखंड के ताराटांड में रविवार को दलित-आदिवासी समाज की बैठक हुई। दलित-आदिवासी उत्पीड़न से संबंधित...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:25 AM IST
गांडेय | गांडेय प्रखंड के ताराटांड में रविवार को दलित-आदिवासी समाज की बैठक हुई। दलित-आदिवासी उत्पीड़न से संबंधित 1989 कानून के संशोधन को लेकर आहूत भारत बंद को लेकर चर्चा की गई। बैठक में उपस्थित जिप सदस्य बबली मरांडी, ताराटांड़ पंचायत की मुखिया यशोदा देवी, पंडरी पंचायत की मुखिया सुनीता मरांडी समेत कई लोगों ने एससी- एसटी वर्ग के लोगों के हित के लिए 1989 कानून पर चर्चा की तथा इसे संविधान पर कुठाराघात बताया। बैठक में एससी- एसटी समाज के लोगों ने अनुसूचित जाति-जनजातियों के लिए बने अधिनियम पर कुठाराघात को लेकर सोमवार को आहूत भारत बंद को सफल बनाने पर सहमति जतायी तथा भारत बंद को सफल बनाने के लिए एकजुटता पर बल दिया। इधर भाकपा माले, झामुमो कार्यकर्ताओं ने भी एससी-एसटी वर्ग के आहूत भारत बंद पर समर्थन दिया है। मौके पर राजकुमार तुरी, बालेश्वर मुर्मू, तेजो रविदास, मनोज तुरी, कैलाश रविदास, बिल्खी देवी थीं।