भवनाथपुर की सीट से भानु व गढ़वा से सत्येंद्रनाथ को भाजपा ने उतारा

Garhwa News - भाजपा द्वारा विधानसभा चुनाव को लेकर रविवार को प्रत्याशियों के नामों के घोषणा के साथ ही जिले की राजनीतिक अचानक से...

Nov 11, 2019, 06:36 AM IST
भाजपा द्वारा विधानसभा चुनाव को लेकर रविवार को प्रत्याशियों के नामों के घोषणा के साथ ही जिले की राजनीतिक अचानक से गरमा गई है।

भाजपा ने गढ़वा-रंका विधानसभा क्षेत्र से एकबार फिर से सिटिंग विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी पर भरोसा दिखाया है। वहीं भवनाथपुर विस क्षेत्र सिटिंग विधायक तथा हाल में ही भाजपा में शामिल हुए भानु प्रताप शाही को पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया है। गढ़वा में सत्येंद्र नाथ तिवारी को पार्टी का टिकट मिलने के बाद गढ़वा विधानसभा क्षेत्र से भाजपा से अपनी उम्मीदवारी की आस लगाए पूर्व विधायक गिरिनाथ सिंह तथा कद्दावर भाजपा नेता अलखनाथ पांडेय का भाजपा की टिकट से चुनाव लड़ने की आस चूर-चूर होकर रह गई।

इसी प्रकार 2014 में भवनाथपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की टिकट पर चुनाव लड़े अनंत प्रताप देव का इस चुनाव में टिकट काटकर इनके कट्टर विरोधी भानु प्रताप शाही को भाजपा से टिकट मिलने के बाद अनंत की भी भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने की उम्मीद टूट गई। अब यह देखना रोचक होगा कि पार्टी के इस निर्णय के बाद गढ़वा में गिरिनाथ सिंह व अलखनाथ पांडेय तथा भवनाथपुर से अनंत प्रताप देव का अगला कदम क्या होगा। राजनीति के जानकारों का कहना है कि पार्टी के इस निर्णय के बाद चुनाव में पार्टी को भीतरघात का सामना करना पड़ सकता है। भानु प्रताप शाही के भाजपा में शामिल होने के बाद से ही भानु, समर्थक अनंत प्रताप देव के विरुद्ध लगातार बयानबाजी कर रहे थे। इसका भी असर चुनाव के दौरान देखने को मिल सकता है।

इसी प्रकार गढ़वा में गिरिनाथ सिंह तथा अलखनाथ पांडेय की नाराजगी भी पार्टी के लिए बड़ा खतरा बन सकता है। भाजपा से टिकट नहीं मिलने के बाद गिरिनाथ सिंह ने कहा कि पार्टी के इस निर्णय से हतप्रभ हूं। अभी इससे ज्यादा कुछ नहीं कह सकता। आगे की रणनीति आगे सोची जाएगी। वहीं अलख नाथ पांडेय ने नो कमेंट कह किसी प्रकार की प्रतिक्रिया देने से इंकार कर दिया। जबकि अनंत प्रताप देव का मोबाइल नॉट रिचेबल बता रहा है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना