गढ़वा

  • Hindi News
  • Jharkhand News
  • Garhwa
  • कांडी में पावर प्लांट लगाने के लिए उपलब्ध‎ है सैकड़ों एकड़ जमीन
--Advertisement--

कांडी में पावर प्लांट लगाने के लिए उपलब्ध‎ है सैकड़ों एकड़ जमीन

डुमरसोता से सोनपुरा तक फैली है जमीन :- कांडी प्रखंड क्षेत्र के सोनतटीय इलाके में डुमरसोता से सोनपुरा गांव तक कई सौ...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:40 AM IST
कांडी में पावर प्लांट लगाने के लिए उपलब्ध‎ है सैकड़ों एकड़ जमीन
डुमरसोता से सोनपुरा तक फैली है जमीन :- कांडी प्रखंड क्षेत्र के सोनतटीय इलाके में डुमरसोता से सोनपुरा गांव तक कई सौ एकड़ जमीन फैली हुई है। इस जमीन में दशकों पहले कहीं कहीं बालू का भराव हो गया है। मीलों मील तक फैली पुरी की पुरी जमीन खाली पड़ी है। इसमें डुमरसोता, कांडी, सड़की, नावाडीह, पाठकपुरा, ककनपुरा व सोनपुरा गांव की जमीन अवस्थित है।

सोने पे सुहागा : उपलब्ध‎ है प्रचूर मात्रा में पानी :- पावर प्लांट के लिए सोन नदी में प्रचूर मात्रा में पानी उपलब्ध‎ है। जो इस जमीन से सटे हुए है। सालों भर बहनेवाली सोन नदी में मई जून में भी नाव चलती है। इस प्रकार एक नहीं कई पावर प्लांटों की जरूरत को सोन नदी की सदानीरा जलधारा से पूरा किया जा सकता है। यह बहुत ही सुंदर संयोग है कि एक ही स्थान पर जमीन व पानी दोनों उपलब्ध‎ है।



काफी निकट से गुजरती है रेलवे लाईन :- पावर प्लांट की स्थापना से लेकर संचालन तक यातायात की सुविधा आवश्यक है। यहां उल्लेखनीय है कि मेराल से भवनाथ पुर को जोड़नेवाली रेलवे लाईन मात्र 10 - 12 किमी की दूरी से गुजरती है। इस रेल पटरी को थोड़े से खर्च में प्रस्तावित स्थल तक पहुंचाया जा सकता है। जबकि सड़क मार्ग बिल्कुल निकट से गुजरता है। इस प्रकार एक या एक से अधिक पावर प्लांट की स्थापना के लिए आधारभूत संरचना यहां पहले से ही प्रकृति ने दुरुस्त कर रखी है।



सीएम से की है मांग :- कांडी प्रखंड 20 सूत्री समिति अध्यक्ष‎ रामलाला दुबे इस जमीन पर पावर प्लांट की स्थापना की मांग बरसों से करते रहे हैं। सीएम के गढ़वा आगमन पर 20 सूत्री अध्यक्ष‎ ने ज्ञापन सौंपकर यह मांग की है। इसी तरह की मांग कांडी मुखिया विनोद प्रसाद ने भी की है।

क्या कहा मंत्री ने :- झारखंड के मंत्री सरयू राय के कांडी आने पर कांडी प्रखंड 20 सूत्री समिति के अध्यक्ष‎ रामलाला दुबे व कई ग्रामीणों ने उक्त विस्तृत भू खंड पर पावर प्लांट स्थापना की गुहार लगाई थी। इतनी जमीन की उपलब्ध‎ता की जानकारी‎ पाकर मंत्री ने हैरत जताई। कहा कि सोलर प्लांट के लिए विभाग चार पांच एकड़ जमीन की तलाश में रहता है। यहां सैकड़ों एकड़ जमीन किस परिस्थिति‎ में पड़ी हुई है, वे इसकी जांच कराएंगे।

X
कांडी में पावर प्लांट लगाने के लिए उपलब्ध‎ है सैकड़ों एकड़ जमीन
Click to listen..