राम मंदिर आंदोलन के दौरान दस लोग गए थे जेल

Garhwa News - गढ़वा | 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद के ढांचे को क्षतिग्रस्त किए जाने के बाद राम मंदिर आंदोलन से जुड़े गढ़वा के दस लोगों...

Nov 11, 2019, 06:36 AM IST
गढ़वा | 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद के ढांचे को क्षतिग्रस्त किए जाने के बाद राम मंदिर आंदोलन से जुड़े गढ़वा के दस लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। शहर में शांति व्यवस्था के मद्देनजर यह कार्रवाई की गई थी। दो दिनों के बाद कोर्ट ने सभी को बेल दे दिया था। इसके बाद लोग रिहा किए गए थे। इस मामले को लेकर 17 वर्षों तक कोर्ट में मुकदमा चलता रहा। स्थानीय कोर्ट ने इस मामले में 2019 में फैसला सुनाते हुए सभी को आरोपों से बरी कर दिया है। जेल से निकलने पर सभी लोगों ने खुशी जाहिर की थी तथा शहर में माला पहनकर लोगों से मुलाकात की थी। लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया था। जिन लोगों को पुलिस ने जेल भेजा था। उसमें मुरली श्याम सोनी, विनोद कमलापुरी, उमेश दिवाकर, कमल केशरी, दीपक केशरी, गिरिद्र पांडेय, मुखराम पांडेय, रामनाथ गुप्ता, राजेश गुप्ता अाैर उदय पहलवान का नाम शामिल हैं। इनमें से उमेश दिवाकर मुखराम पांडेय व उदय पहलवान अब इस दुनियां में नहीं हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना