Hindi News »Jharkhand »Ghato» मजदूर-प्रबंधन विवाद सुलझा, आज से काम शुरू

मजदूर-प्रबंधन विवाद सुलझा, आज से काम शुरू

मारपीट मामले में आठ मजदूरों पर कार्रवाई होगी भास्कर न्यूज| घाटोटांड़ सीसीएल हजारीबाग एरिया के झारखंड उत्खनन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 13, 2018, 02:30 AM IST

मारपीट मामले में आठ मजदूरों पर कार्रवाई होगी

भास्कर न्यूज| घाटोटांड़

सीसीएल हजारीबाग एरिया के झारखंड उत्खनन परियोजना में आउटसोर्सिंग एएमआर इंडिया लिमिटेड में प्रबंधन और मजदूरों के बीच चल रहे विवाद पर विराम लग गया। युनाइटेड कोल वर्कर्स यूनियन की पहल पर जेओसीपी पीओ ऑफिस में त्रिपक्षीय वार्ता बुलाई गई। जिसमें यूनियन नेता, सीसीएल प्रबंधन और एएमआर प्रबंधन शामिल हुआ।

वार्ता में मुख्य रूप से युनाइटेड कोल वर्कर्स यूनियन के महामंत्री लखन लाल महतो और क्षेत्रिय सचिव बालेश्वर महतो मौजूद थे। वार्ता में तीन महीने से मैनेजर विजय रेड्डी के साथ हुए मारपीट मामले में प्रबंधन और मजदूरों के बीच चल रहे विवाद को सलटाया गया। मामले में प्रबंधन द्वारा कुल चौंतीस मजदूरों पर एफआईआर कर उन्हें जेल भेजने की साजिश को गलत ठहराते हुए उन कामगारों को काम पर वापस रखने पर सहमति बनाई गई।

हालांकि उनमें से चिन्हित आठ आरोपियों टेकलाल महतो, तिलेश्वर महतो, सूरजदेव कुमार, छतलाल महतो, देवानंद महतो, शंभू कुमार, रूपचंद महतो, नीलकंठ महतो पर कार्रवाई की जाएगी। इन्हें करीब दो महीने तक काम से सस्पेंड रखने की बात कही गई। मौके पर पीओ जेएन गुप्ता, एएमआर के डायरेक्टर कार्तिक रेड्डी, खान प्रबंधक आर पी पासवान, विकास रंजन, श्रीनिवास, राजेंद्र प्रसाद सिंह, सकलदेव कुमार, पप्पू कुमार, बद्री सिंह, लालमण महतो, डालचंद महतो, राम विलास प्रसाद, नारायण महतो आदि मौजूद थे।

मजदूरों से बेहतर रिश्ता बनाएंगे : डायरेक्टर

एएमआर कंपनी के बंद काम को शुक्रवार से चालू किया जाएगा। इस पर कंपनी के डायरेक्टर कार्तिक रेड्डी ने कहा कि विवाद खत्म हो चुका है। तीन महीने से बंद काम को शुक्रवार से चालू किया जाएगा। अब इस पर कंपनी प्रबंधन मजदूरों से बेहतर रिश्ते को कायम करते हुए पूर्व की तरह कार्य कराएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ghato

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×