बड़ाजुड़ी-मुड़ाकाटी के लोगों में भाईचारे को लेकर बनी सहमति, अफवाह की सूचना देने की नसीहत

Ghatsila News - घाटशिला थाना में सोमवार को बड़ाजुड़ी और मुड़ाकाटी गांव के ग्रामीणों के बीच उत्पन्न विवाद को शांत कराने और अफवाहों पर...

Bhaskar News Network

Sep 17, 2019, 06:41 AM IST
Ghatsila News - people of barajuri mudakati agreed to brotherhood advice to give information of rumor
घाटशिला थाना में सोमवार को बड़ाजुड़ी और मुड़ाकाटी गांव के ग्रामीणों के बीच उत्पन्न विवाद को शांत कराने और अफवाहों पर ध्यान नहीं देने के लिए बैठक हुई। बैठक में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने बारी-बारी से दोनों गांव के ग्रामीण, पंचायत प्रतिनिधियों और ग्रामप्रधानों से पक्ष जाना।

बैठक को संबोधित करते हुए ग्रामीण एसपी पीयूष पांडेय ने कहा कि पुलिस और प्रशासन शुरू से ही दोनों गांव के बीच शांति व्यवस्था स्थापित किए जाने के लिए प्रयासरत रहा। इसलिए सभी बातों को भूलकर दोनों गांव के लोग आपसी भाईचारा कायम करें। बड़ाजुड़ी के ग्राम प्रधान श्याम सोरेन ने कहा कि मुड़ाकाटी गांव में छेड़खानी की घटना के बाद जब बड़ाजुड़ी के युवकों को उनके द्वारा बंधक बना कर रखा गया तो उन्हें और पंचायत प्रतिनिधियों को किसी प्रकार की जानकारी नहीं दी गई। लेकिन अब विवाद शांत कराने के लिए उन्हें बुलाया गया। इससे उन्हें काफी दुख है। दोनों गांव के बीच हमेशा से भाईचारा का संबंध रहा है। लेकिन बड़ाजुड़ी के ग्रामीण अब विवाद बढ़ाने के प्रति कोई गलत कदम नहीं उठा रहे हैं। दोनों गांव के लोग मिलजुल कर रहने की बात स्वीकार की।

ग्रामीणों के बीच विवाद को शांत कराने को लेकर घाटशिला थाने में हुई बैठक

बैठक में शामिल ग्रामीण एसपी, एसडीओ और अन्य पदाधिकारी।

कई बार मुड़ाकाटी ग्रामीणों ने विवाद सुलझाने का प्रयास किया : दुर्गा मुर्मू

मुड़ाकाटी के ग्राम प्रधान दुर्गा मुर्मू ने संथाली में अपनी बातें रखी। जिसके कारण उसे समझने के लिए जिला परिषद देवयानी मुर्मू ने उसे हिन्दी में बातें रखीं। कई बार मुड़ाकाटी के ग्रामीणों द्वारा विवाद का निपटारा करने के लिए प्रयास किया गया। प्रशासनिक अधिकारी भी मुड़ाकाटी गांव पहुंच ग्रामीणों के साथ बैठक कर विवाद सुलझाने की पहल की। लेकिन बड़ाजुड़ी के ग्रामीणों द्वारा विवाद निपटारे के लिए सहयोग नहीं किया।

पुलिस और प्रशासन ने मामला सुलझाने का किया प्रयास : एसडीपीओ

घाटशिला एसडीपीओ रणवीर सिंह ने कहा कि मुड़ाकाटी घटना के बाद प्रशासनिक स्तर पर दोनों गांव के बीच विवाद सुलझाने का काफी प्रयास किया गया। लेकिन दोनों गांव के लोगों के बीच किसी न किसी कारण से कुछ कुछ छोटी-छोटी घटना के कारण विवाद सुलझ नहीं पाया। दोनों गांव के लोग पूर्व के अनुरूप सभी बातों को भूलकर भाईचारा के साथ रहें।

मुड़ाकाटी विवाद निपटारे के लिए जाना चाह रहा था पर रोका गया : मुखिया

बड़ाजुड़ी के मुखिया किरिटी सिंह ने कहा कि मुड़ाकाटी विवाद के दिन जैसे ही उन्हें घटना की सूचना मिली वे मुड़ाकाटी गांव जाने के लिए वहां के वार्ड सदस्य से संपर्क कर घटना की जानकारी ली। लेकिन मामले में सुलह के लिए उन्हे गांव आने से रोका गया। वहीं बड़ाजुड़ी उपमुखिया ललित कृष्ण भकत ने कहा कि मुड़ाकाटी घटना के दिन ही अगर बड़ाजुड़ी पंचायत प्रतिनिधि को गांव बुलाकर बात होती तो उसी दिन विवाद का निपटारा हो जाता।

घाटशिला थाना में हुई बैठक में शामिल दो गांव के लोग।

मॉबलिंचिंग व बच्चा चोर की अफवाह पर प्रशासन को सूचना देने पर जोर

बैठक में बोला गया कि मॉबलिंचिंग और बच्चा चोर की अफवाह की किसी भी सूचना पर तत्काल पुलिस और प्रशासन को इसकी सूचना दें। गांव में अगर कोई संदेहास्पद व्यक्ति दिखे तो इसकी भी सूचना दी जाए। अफवाहों पर ध्यान नहीं दिया जाए। सोशल मीडिया पर भी बिना किसी सूचना के सत्यापन किए उसे शेयर न करें। बैठक में प्रमुख हीरामनी मुर्मू, जिप देवयानी मुर्मू, पूर्णिमा कर्मकार, मुखिया किरिटी सिंह, मंजीत सिंह आदि मौजूद थे।

Ghatsila News - people of barajuri mudakati agreed to brotherhood advice to give information of rumor
X
Ghatsila News - people of barajuri mudakati agreed to brotherhood advice to give information of rumor
Ghatsila News - people of barajuri mudakati agreed to brotherhood advice to give information of rumor
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना