Hindi News »Jharkhand »Giddi» रजरप्पा जीएम ने खदान में किया आरओ का उद्घाटन, कैंटीन का लिया जायजा

रजरप्पा जीएम ने खदान में किया आरओ का उद्घाटन, कैंटीन का लिया जायजा

सीसीएल रजरप्पा क्षेत्र की खदानों में कार्यरत कोयला मजदूरों को शुद्ध पेयजल मिलना शुरू हो गया है। शनिवार की शाम...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:25 AM IST

रजरप्पा जीएम ने खदान में किया आरओ का उद्घाटन, कैंटीन का लिया जायजा
सीसीएल रजरप्पा क्षेत्र की खदानों में कार्यरत कोयला मजदूरों को शुद्ध पेयजल मिलना शुरू हो गया है। शनिवार की शाम रजरप्पा जीएम आलोक कुमार ने सेक्शन तीन खदान में आरओ का उद्घाटन किया। इसके साथ ही वर्षों पुरानी मजदूरों की मांग पूरी हो गई। मौके पर जीएम ने कहा, हमने मजदूरों से वादा किया था कि 31 मार्च तक हर हाल में मजदूरों को शुद्ध पेयजल मिलना शुरू हो जाएगा।

इस वादे को आज पूरा किया गया। पहले मजदूर खदान क्षेत्र में पानी के लिए काफी परेशान रहते थे। आरओ के उद्घाटन के बाद मजदूरों के अनुरोध पर जीएम ने यहां की कैंटीन का भी जायजा लिया। मजदूर नेता रमेश विश्वकर्मा ने जीएम को जानकारी दिया कि कैंटीन की स्थिति काफी जर्जर है। जीएम ने मजदूरों को भरोसा दिया कि कैंटीन को शीघ्र दुरुस्त किया जाएगा। मौके पर ओपन कास्ट के प्रोजेक्ट ऑफिसर ओमप्रकाश चौबे, डिप्टी मैनेजर पर्सनल दीपशिखा, सीनियर पर्सनल ऑफिसर एएन सिंह और मजदूर नेताओं में बिनोद कुमार, अरुण कुमार, मो साबिर, जगदीश महतो के अलावे कई मजदूर मौजूद थे।

कोयला मजदूरों के साथ कैंटीन में बात करतते रजरप्पा जीएम।

दिन के साढ़े तीन बजे गिद्दी में दिखा रात जैसा नजारा

गिद्दी | गिद्दी कोयलांचल में रविवार की दोपहर साढ़े तीन बजे ही रात का नजारा दिखाई दिया। एक ओर जहां क्षेत्र में पूरी तरह अंधेरा छा गया। वहीं मंत्री सह सांसद द्वारा क्षेत्र में लगाई गई सोलर लाईट दोपहर तीन बजे ही जल गए। वहीं दो पहिया वाहन एवं चार पहिया वाहन चालक अपने-अपने वाहन का हेड लाईट जलाकर सड़क से गुजर रहे थे। वहीं घंटों अंधेरा छाए रहने के बाद तेज बारिश के साथ-साथ कई स्थानों पर ओले भी गिरे। बाद में लगभग पौने पांच बजे अंधेरा छंट गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Giddi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×