--Advertisement--

कोयलांचल में झारखंड बंद का दिखा असर

Giddi News - गिद्दी सी चौक पर सड़क जाम कर नारेबाजी करते बंद समर्थक। गिद्दी में सात घंटे नहीं चले बड़े वाहन, कार्यकर्ताओं ने...

Dainik Bhaskar

Jul 06, 2018, 02:35 AM IST
कोयलांचल में झारखंड बंद का दिखा असर
गिद्दी सी चौक पर सड़क जाम कर नारेबाजी करते बंद समर्थक।

गिद्दी में सात घंटे नहीं चले बड़े वाहन, कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतर कराया बंद

भास्कर न्यूज| गिद्दी

भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल के खिलाफ तथा फैसले को निरस्त करने की मांग को लेकर विपक्षी दलों द्वारा आहूत झारखंड बंद गिद्दी कोयलांचल में व्यापक असर देखा गया। इस दौरान बंद समर्थक अपने-अपने पार्टी का झंडा लेकर गुरूवार की सुबह 6 बजे से गिद्दी-नयामोड़ मार्ग को गिद्दी सी ट्रैकर स्टैंड सड़क पर तथा गिद्दी-नईसराय मार्ग को गिद्दी चौक, रेलीगढ़ा कांटा घर के पास बांस-बल्ली व बाइक खड़ा कर जाम कर दिया। जिससे गिद्दी सी सड़क दोनों ओर बड़े वाहनों की लंबी कतार लग गई। वहीं बंद समर्थक मोटरसाइकिल रैली निकाल कर क्षेत्र के प्रतिष्ठानों को बंद करने की अपील की। जबकि यात्री वाहन और व्यापारिक प्रतिष्ठान भी बंद रहे। बंद के कारण गिद्दी डीएवी व एसवीएम गिद्दी बस्ती विद्यालय प्रबंधन ने विद्यालय में छुट्टी कर दिया था। बंदी में झारखंड प्रदेश विद्यालय रसोइया संयोजिका अध्यक्ष संघ व आदिवासी जन परिषद के सदस्य भी शामिल थे। वहीं शांति व्यवस्था बहाल रखने को लेकर गिद्दी थाना प्रभारी सुरेश राम जहां क्षेत्र का गश्ती कर रहे थे। वहीं गिद्दी पुलिस के अन्य पदाधिकारी सड़क जाम स्थल पर तैनात थे। बंद समर्थक दोपहर एक बजे गिद्दी चौक तथा डेढ़ बजे गिद्दी सी चौक से सड़क जाम हटा लिया। सड़क जाम में जिप सदस्य लखनलाल महतो, मुखिया अरूण कुमार सिंह, प्रमोद कुमार महतो, नरेश बेदिया, पंसस पतिलाल मरांडी, मिथिलेश सिंह, देवचंद महतो, बैजनाथ मिस्त्री, राकेश सिंह उर्फ कबलू , कुमेश्वर महतो, पच्चू राणा, सैनाथ गंझू, राजेश टुडू, नेमन यादव, जीवलाल महतो, धनेश्वर तुरी, सेवालाल महतो, शंकर बेदिया, अजीत प्रजापति, पप्पू सिंह, गौतम बनर्जी, कार्तिक मांझी, विकास बेदिया, विजय कुमार, कौलेश्वर प्रजापति, शशि भूषण सिंह आदि शामिल थे।

मांडू : सड़क पर उतरे झामुमो कार्यकर्ता, गिरफ्तार

मांडू |
भूमि अधिग्रहण कानून में संशोधन के खिलाफ दर्जनों झामुमो के नेता व कार्यकर्ता शांतिपूर्ण तरीके से बंद कराने के लिए गुरूवार को सड़क पर उतरे। इस दौरान बंद समर्थक भूमि अधिग्रहण बिल वापस लेने की मांग कर रहे थे। मौके पर बीडीओ मनोज कुमार गुप्ता, सीआई संजीव भारती व थाना प्रभारी विद्यावती ओहदार, सअनि एसएन यादव अपने सशस्त्र बल के साथ पहुंचकर बंद समर्थकों को हिरासत में लिया और सभी को थाना परिसर ले गयी। जहां बाद में पुलिस कागजी प्रक्रिया के बाद बंद समर्थकों को छोड़ दिया। बंद समर्थकों में झामुमो प्रखंड सचिव संतोष कुमार वरिष्ठ नेता सागीर हुसैन, गीता विश्वास, दीपक टुडू, बंधन महतो, पिंकी बेसरा, प्रेम प्रसाद, बैजनाथ करमाली, बिरजू मुसहर, भुनेश्वर महतो, जगत करमाली, राजेश कुमार समेत काफी संख्या में बंद समर्थक शामिल थे।

चितरपुर में झारखंड बंद का रहा आंशिक असर

चितरपुर/रजरप्पा |
विपक्ष समन्वय समिति के द्वारा गुरुवार को आयोजित झारखंड बंद का चितरपुर में आंशिक असर देखा गया। यहां अन्य दिनों की तरह दुकानें खुली रही। वहीं छोटी गाड़ियों का आवागमन भी जारी रहा। हालांंकि इस दौरान लंबी दूरी के वाहन नहींं चले। बंद को लेकर विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं ने चितरपुर बाजार टांड़ के समीप एनएच 23 को जाम कर दिया। इसका नेतृत्व कांग्रेस नेता शहजादा अनवर ने किया। लगभग दो घंटे जाम के बाद रजरप्पा पुलिस ने वहां पहुंचकर जाम को हटा दिया। इस दौरान चार बंद समर्थकों को गिरफ्तार कर थाना लाया गया। जिन्हें शाम को जमानत पर छोड़ दिया गया। जाम के कारण यहां छोटी गाड़ियों का आवागमन तो हुआ। लेकिन लंबी दूरी के वाहन नही चले। इसके अलावे इधर सीसीएल रजरप्पा में अन्य दिनों की तरह उत्पादन कार्य जारी रहा। जाम का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस नेता शहजादा अनवर ने कहा कि झारखंड सरकार भूमि अधिग्रहण अधिनियम का संशोधन को अविलंब सरकार वापस ले, अन्यथा झारखंड के तमाम विपक्ष दल और यहां की जनता सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगी। मौके पर कांग्रेस नेता जकाउल्लाह, चंद्रशेखर पटवा, झामुमो नेता जगरनाथ महतो, शनिचर मांझी सहित मो साजिद, सुरेश महतो, असगर कामिल, मनोज दांगी, शहबाज अहमद, सरवर आलम, मो इजहार, अमजद अली, मो अख्तर, भोला ठाकुर, संजय ठाकुर आदि मौजूद थे।

सयाल-उरीमारी में पड़ा बंद का व्यापक असर

उरीमारी |
भूमि अधिग्रहण कानून में संशोधन के खिलाफ संयुक्त मोर्चा द्वारा गुरूवार को आहूत झारखंड बंद का सयाल-उरीमारी में व्यापक असर पड़ा। बंद के दौरान बंद समर्थक सड़कों पर घूम-घूमकर बंद कराते दिखे। बंद के दौरान सीसीएल बरका-सयाल प्रक्षेत्र की उरीमारी परियोजना और न्यू बिरसा आउटसोर्सिंग परियोजना से सौंदा बी रेलवे साइडिंग के लिए कोयले की ढुलाई पूरी तरह से ठप रही। इससे सीसीएल को लाखों रुपए का नुकसान पहुंचा है। वहीं, बंद के दौरान क्षेत्र की दुकानें बंद रही। यात्री वाहन भी नहीं चले। इससे यात्रियों को आवागमन में भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। इस दौरान विधि-व्यवस्था बनाए रखने को लेकर पुलिस मुस्तैद रही। बंद को सफल बनाने को लेकर सड़कों पर विंध्याचल बेदिया, राजू यादव, संजीव बेदिया, गहन टुडू, दसई मांझी, गिरधारी प्रजापति, महादेव बेसरा, कानू मांझी, लालजी मांझी, परमेश्वर सोरेन, तालो हांसदा, बहादुर मांझी, विनोद हेम्ब्रोम, सोनाराम मांझी, जितन मुंडा, सूरज बेसरा, मोहन मांझी आदि सड़क पर उतरे थे।

सड़क पर यात्री वाहन नहीं चलने से परेशान रहे लोग

बंद के दौरान यात्री वाहन नहीं चलने से भुरकुंडा रेलवे स्टेशन से पैदल जाते यात्री।

भदानीनगर | भूमि अधिग्रहण बिल में संशोधन के खिलाफ गुरुवार को झारखंड संयुक्त विपक्ष समन्वय समिति के द्वारा आहूत झारखंड बंद का भदानीनगर क्षेत्र में मिला-जुला असर रहा। समिति के कार्यकर्ता अपनी- अपनी पार्टी के झंडा बैनर के साथ सड़क पर बंद कराने उतरे। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने झारखंड सरकार के खिलाफ़ जम कर नारेबाजी की। बंद समर्थकों ने तीर-धनुष और ढोल-नगाड़ों के साथ क्षेत्र में घूम-घूमकर दुकान और वाहनों को बंद कराया। मतकमा चौक फोरलेन सड़क पर समर्थक बैठकर वाहनों का परिचालन रोक रहे थे। जिन्हें भदानीनगर पुलिस ने गिरफ्तार कर ओपी ले आई। बंद को लेकर सड़क पर इक्का-दुक्का यात्री वाहन चले और सड़कें सुनसान रही। यात्री वाहन नहीं चलने से लोग परेशान रहे। भुरकुंडा रेलवे स्टेशन से दर्जनों लोगों को पैदल घर जाना पड़ा। बंद को लेकर कई स्कूल नहीं खुले। समन्वय समिति के लोगोें को बंद के दौरान गिरफ्तार कर भदानीनगर पुलिस ने बांड लिखवाकर छोड़ा। इस दौरान कार्यकर्ता करीब 6 घंटे तक ओपी परिसर में रहे। गिरफ्तार समर्थकों में झामुमो के संजय वर्मा, लखन मुंडा, हरिलाल बेदिया, उदय मालाकार, इमामुल अंसारी, दाहो बेदिया, टुनटुन बेदिया, शंकर सिंह, कांग्रेस के बारिक अंसारी, हरी साव, माले के सरयू मुंडा, सुखलाल मुंडा, प्रेम बेदिया, सुलेंद्र मुंडा शामिल थे। वहीं विधि व्यवस्था को लेकर मतकमा चौक पर मजिस्ट्रेट पतरातू एमओ जगदेव प्रसाद मंडल, पतरातू सर्किल इंस्पेक्टर सुरेश मिंज, भदानीनगर ओपी प्रभारी अर्जुन उरांव, बासल प्रभारी विमल प्रकाश तिर्की, सअनि रामाकांत सिंह और चैनगडा में सअनि दिनेश सिंह दल बल के साथ मौजूद थे।

मांडू : झामुमो के बंद समर्थकों को हिरासत में लेकर थाना ले जाती पुलिस।

विपक्ष का बंद फ्लापः हुकूमनाथ

गिद्दी | डाड़ी प्रखंड के 20 सूत्री अध्यक्ष हुकूमनाथ महतो ने एक बयान जारी कर विपक्ष द्वारा बुलाई गई बंद को फ्लाप बताया है। हुकुमनाथ ने कहा कि बंद समर्थक जबरन बंद किए हुए थे। बंद की विफलता से स्पष्ट है कि जनता भाजपा सरकार के साथ है। वहीं दूसरी और भाजपा नेता राजू रंजन तिवारी ने कहा है कि जनता ने विपक्ष के द्वारा बुलाए बंद को नकार दिया।

हुकूमनाथ महतो।

चितरपुर में सड़क जाम करते विपक्ष समन्वय समिति के लोग।

भुरकुंडा के मतकमा चौक पर बंद के दौरान नारेबाजी करते समर्थक।

गोला में सड़क पर उतर कर बंद कराते विपक्ष समन्वय समिति के सदस्य।

उरीमारी में बंद के दौरान नारेबाजी करते लोग।

अरगडा में आदिवासी जनपरिषद के सदस्य सड़क पर उतरकर नारेबाजी करते।

बरकाकाना में बंद के दौरान फ्लैग मार्च करते पुलिस के जवान।

कोयलांचल में झारखंड बंद का दिखा असर
कोयलांचल में झारखंड बंद का दिखा असर
X
कोयलांचल में झारखंड बंद का दिखा असर
कोयलांचल में झारखंड बंद का दिखा असर
कोयलांचल में झारखंड बंद का दिखा असर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..