Hindi News »Jharkhand »Giridih» तीन दिवसीय बैडमिंटन टूर्नामेंट छह अप्रैल से

तीन दिवसीय बैडमिंटन टूर्नामेंट छह अप्रैल से

बरमसिया स्थित विजय इंस्टीट्यूट के अस्सी साल पूरा होने पर आगामी छह अप्रैल से तीन दिवसीय बैडमिंटन टूर्नामेंट का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:30 AM IST

तीन दिवसीय बैडमिंटन टूर्नामेंट छह अप्रैल से
बरमसिया स्थित विजय इंस्टीट्यूट के अस्सी साल पूरा होने पर आगामी छह अप्रैल से तीन दिवसीय बैडमिंटन टूर्नामेंट का आयोजन किया जाएगा। छह से आठ अप्रैल तक आयोजित इस टूर्नामेंट में झारखंड सहित बिहार, बंगाल, उड़ीसा व यूपी के करीब 200 खिलाड़ी भाग लेंगे।

इस आशय की जानकारी रविवार को विजय इंस्टीट्यूट में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में समिति के अध्यक्ष डाॅ. शैलेन्द्र चौधरी, सचिव विकास कुमार सिन्हा, संयोजक राजेश जालान व सह संयोजक रोहित श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से दी। समिति के सचिव सिन्हा ने जानकारी दी कि सलूजा गोल्ड व विजय इंस्टीट्यूट के संयुक्त तत्वावधान में टूर्नामेंट की व्यापक तैयारी की जा रही है।

उन्होंने बताया कि टूर्नामेंट में सब जूनियर ब्याज व गर्ल्स, मेन्स सिंगल व डबल, वीमेंन्स सिंगल व डबल के मैच खेले जायेंगे। सचिव विकास सिन्हा ने बताया कि टूर्नामेंट के विजेता को दस हजार व उप-विजेता को पांच हजार नकद इनाम की राशि दी जायेगी। वहीं महिला सिंगल विजेता को पांच हजार व उपविजेता को ढ़ाई हजार नगद दी जायेगी। विदित हो कि गिरिडीह के लिए यह पहला मौका है जब किसी बैडमिंटन टूर्नामेंट में पांच राज्यों के खिलाड़ी भाग लेंगे। इनमें कई नामचीन खिलाड़ी शामिल है। टूर्नामेंट का उद्घाटन डीसी, स्थानीय विधायक व सदर एसडीएम करेंगे। टूर्नामेंट के सफल आयोजन के लिए चार सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है। मौके पर राजेन्द्र त्रिपाठी, संतोष शर्मा, अशोक तुरी मुख्य रूप से मौजूद थे। सचिव ने बताया कि विजय इंस्टीट्यूट के अस्सी साल पूरा होने के उपलक्ष्य में उक्त टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है।

झारखंड, बिहार, बंगाल, यूपी व उड़ीसा के दो सौ खिलाड़ी टूर्नामेंट में होंगे शामिल

प्रेसवार्ता करते बैडमिंटन एसोसिएशन के पदाधिकारी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Giridih

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×