• Home
  • Jharkhand News
  • Giridih
  • भाजपा को आई पूर्व मंत्री चन्द्रमोहन प्रसाद की याद
--Advertisement--

भाजपा को आई पूर्व मंत्री चन्द्रमोहन प्रसाद की याद

लंबे अरसे बाद भाजपा को पूर्व मंत्री चन्द्रमोहन प्रसाद की याद आयी है। विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद संभवत: यह...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:30 AM IST
लंबे अरसे बाद भाजपा को पूर्व मंत्री चन्द्रमोहन प्रसाद की याद आयी है। विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद संभवत: यह महला मौका है जब प्रसाद को बड़ी जिम्मेवारी दी गई है। नगर निगम चुनाव में प्रसाद को चुनाव संचालन समिति का संयोजक तथा सुरेन्द्र कुमार राय व श्यामा सिंघानिया को सह संयोजक बनाया गया है। राय के सितारे भी फिलहाल गर्दिश में ही थे। बदली राजनीतिक परिस्थिति में इन नेताओं की भाजपा को जरूरत महसूस हो रही है। नगर निगम चुनाव से पूर्व हाल के वर्षों में दोनों नेताओं को भाजपा में कोई खास जगह नहीं दी गई। अचानक पार्टी को दोनों नेताओं की याद से समर्थक भी अचंभित है। विदित हो कि नगर निगम चुनाव क्षेत्र में कायस्थ व भूमिहार की बड़ी आबादी है, जो भाजपा की परंपरागत समर्थक रही है। पर टिकट वितरण में दोनों की उपेक्षा को लेकर दोनों वर्गों में खासी नाराजगी है। नाराजगी को पाटने शनिवार को राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास का गिरिडीह दौरा हुआ। नाराज कार्यकर्ताओं को पुचकारने व सहलाने की भरपूर कोशिश की गई। पर मन में आयी खटास दूर होती नहीं दिख रही है। इधर मारवाड़ी समाज से आने वाले नप के पूर्व उपाध्यक्ष राकेश मोदी की उपेक्षा भी दल पर भारी पड़ रही है। यही कारण है कि तीनों वर्गों को साथ लाने की जिम्मेवारी इन नेताओं पर सौंपी गई है। चर्चा के अनुसार अब तक इन वर्गों को भाजपा केवल अपना वोट बैंक समझती रही है।