रुपए लूट के दौरान हुई थी पूर्व पंसस द्वारिका की हत्या, दो आरोपी धराए

Giridih News - बीते सात दिसम्बर 2018 को सरिया के अमनारी पंचायत के पूर्व पंचायत समिति सदस्य द्वारिका यादव के हत्या मामले का खुलासा...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:45 AM IST
Saria News - former rupees dwarka murdered during the loot of rupees two accused arrested
बीते सात दिसम्बर 2018 को सरिया के अमनारी पंचायत के पूर्व पंचायत समिति सदस्य द्वारिका यादव के हत्या मामले का खुलासा गुरुवार देर शाम सरिया पुलिस ने कर दिया है।

सरिया थाना में मौजूद एसडीपीओ बिनोद कुमार महतो, पुलिस निरीक्षक आरएन चौधरी व थाना प्रभारी बिन्देश्वरी दास ने बताया हत्या के बाद कांड संख्या 203/18 दर्ज किया गया था और मामले के उद्भेदन को लेकर लगातार राजनीतिक दबाव व धरना-प्रदर्शन से सरिया पुलिस दबाव में थी। लेकिन हत्यारों की धर पकड़ के लिए लगातार तकनीकी उपयोगों व नजदीकी सूत्रों से सहायता ली जा रही थी। पुलिस का ध्यान बड़े अपराधी की तरफ टिकी थी लेकिन लगातार प्रयास से हत्या मामले का खुलासा हुआ। जिसमें हत्यारे अमनारी से सटे चौराटांड़ गांव के दो युवक पकड़े गए जिनमें पवन साव (22) व रामचंद्र साव (25) को गोरहर पुलिस ने हत्या के एक अन्य मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। जिसे सरिया पुलिस ने रिमांड पर लेने की तैयारी चल रही है। द्वारिका यादव की हत्या के बारे में अपराधियों ने जो खुलासा किया उसके अनुसार रुपए लूटने के मकसद से हत्या हुई थी। दरअसल अमनारी में द्वारिका यादव की सीमेंट, छड़ की अच्छी दुकान थी। अपराधी लगातार दस दिन से रेकी कर रहे थे, क्योंकि प्रतिदिन शाम को दुकान बंद कर घर करनोडीह पैदल जाते थे। हत्या के दिन अपराधी इस ख्याल में थे कि द्वारिका यादव के पास 50-60 हजार रुपए होंगे जो सीमेंट दुकान से लेकर पैदल घर जा रहे हैं। घर जाने की सूचना पवन साव ने रेकी कर अन्य दो साथियों को दूरभाष पर इसकी जानकारी दी थी। लेकिन बीच जंगल में जब उनसे लूटपाट किया गया तो उनके पैकेट से मात्र छह सौ रुपए मिले। लूटपाट के क्रम मे एक बाइक के गुजरने से द्वारिका यादव ने इन लोगों को पहचान लिया जिससे पकड़े जाने के डर से अपराधियों ने चाकू के वार से इनकी गला रेतकर हत्या कर दी और जंगल के रास्ते फरार हो गए।

हत्या व चोरी के आरोप में गिरफ्तार आरोपी व जानकारी देते पुलिस अधिकारी।

चोरी के तीन मामलों का खुलासा, 5 लाख का समान जब्त

द्वारिका यादव हत्या मामले में पकड़े गए अपराधियों ने इसी क्षेत्र में तीन बड़ी चोरियों में शामिल होने की बात स्वीकार की है। जिसमें 7 दिसम्बर को द्वारिका यादव की हत्या के बाद जनवरी में अमनारी के राजेंद्र पंडित के घर चोरी जबकि फरवरी में चौराटांड़ के जीतन साव के घर में चोरी तथा 25 मई 2019 को मनोज राणा के मोबाइल दुकान में उन्होंने चोरी की घटना को अंजाम दिया था जो सरिया पुलिस के लिए सिरदर्द बनती जा रही थी। चोरी मामले में पवन साव के साथ मुकेश साव 23 की संलिप्तता थी उसे भी गिरफ्तार किया गया है। अंततः इनकी गिरफ्तारी के बाद इनलोगों से भारी मात्रा में चोरी गये लगभग 5 लाख के सामान बरामद कर लिया है। जिसमें 3 प्रिंटर मशीन, 2 स्टेबलाइजर, इन्वर्टर, 60 हजार मूल्य का कैमरा, एलसीडी, पंखा, एक दर्जन मोबाइल, लैपटॉप, कीमती साऊंड सिस्टम, बैटरी एवं चार्जर ब्लोवर, सीपीयू, हेडफोन समेत भारी मात्रा में अन्य सामान बरामद किया गया है।

X
Saria News - former rupees dwarka murdered during the loot of rupees two accused arrested
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना