Hindi News »Jharkhand »Giridih» छत्तीसगढ़ चोरी मामले में मुख्य आरोपी गिरफ्तार, 3 करोड़ के आभूषण बरामद

छत्तीसगढ़ चोरी मामले में मुख्य आरोपी गिरफ्तार, 3 करोड़ के आभूषण बरामद

गिरिडीह पुलिस ने छत्तीसगढ़ के रायपुर के व्यवसायी जगदीश अग्रवाल के घर चोरी करने वाले मुख्य आरोपी टिंकू यादव को...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 03, 2018, 02:50 AM IST

छत्तीसगढ़ चोरी मामले में मुख्य आरोपी गिरफ्तार, 3 करोड़ के आभूषण बरामद
गिरिडीह पुलिस ने छत्तीसगढ़ के रायपुर के व्यवसायी जगदीश अग्रवाल के घर चोरी करने वाले मुख्य आरोपी टिंकू यादव को गिरफ्तार करने के साथ करीब 3 करोड़ का आभूषण भी बरामद कर लिया है। 24 अप्रैल को टिंकू ने अपने सहयोगियों के साथ 8 करोड़ से अधिक कीमत का हीरा, डायमंड, जेवर समेत 60 लाख नगद चोरी का भागा था। इस हाईप्रोफाइल चोरी कांड के मुख्य सरगना मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के अगदोनीकला गांव निवासी टिंकू यादव को करीब करोड़ के डायमंड, पन्ना, हीरा जड़ा युक्त जेवरों व सोने के तीन लाख के सिक्के के साथ दबोचने में सफलता पाई। बरामद गहनों में डायमंड जड़ा नेकलेस, पन्ना जड़ा अंगूठी के अलावे कई बेशकीमती आभूषण है। बरामदगी के बाद क्राइम ब्रांच पुलिस ने गिरिडीह पुलिस के सहयोग से शहर के एक जेवर कारोबारी को बरामद आभूषणों का मूल्यांकन के लिए बुलाया था। लिहाजा, जेवर कारोबारी ने बरामद आभूषणों की कीमत करीब तीन करोड़ आंका। मुख्य आरोपी टिंकू यादव को अकदोनीकला गांव स्थित उसके घर से मंगलवार को दबोचा गया। वहीं बुधवार को छत्तीसगढ़ पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर लेकर छत्तीसगढ़ रवाना हो गई। ट्रांजिट रिमांड पर लेने से पहले छत्तीसगढ़ क्राइम ब्रांच पुलिस ने स्थानीय पुलिस व पत्रकारों के समक्ष पूरे मामले का खुलासा किया। इस मामले में मनीष और रंजय की गिरफ्तारी पहले ही हो चुकी है।

करोड़ों रुपए के जेवरात की चोरी की जानकारी देती पुलिस, हिरासत में आरोपी।

अग्रवाल परिवार के विदेश जाने पर किया था चोरी : एसपी

एसपी सुरेंद्र झा ने डीएसपी प्रमोद मिश्रा के नेतृत्व में टीम का गठन किया। जिसमें मुफ्फसिल थाना प्रभारी संजीव मिश्रा, महिला थाना प्रभारी विंध्यवासिनी सिन्हा और मुफ्फसिल थाना के एएसआई जीतेन्द्र कुमार शामिल थे। इधर एसपी सुरेन्द्र झा ने बताया कि छत्तीसगढ़ के हीरा ग्रुप के निदेशक जगदीश अग्रवाल के घर टिंकू यादव काम करता था। इसी बीच अग्रवाल पूरे परिवार के साथ विदेश भ्रमण में गए थे। इसका लाभ टिंकू ने उठाया और कीमती आभूषणों की चोरी कर ले भागा। इस बाबत छत्तीसगढ रायपुर के सरस्वती नगर थाना में हीरा ग्रुप के निदेशक जगदीश अग्रवाल ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

सीसीटीवी से हुआ चोरी का खुलासा

क्राइम ब्रांच पुलिस के एसआई संजय एस करस ने बताया कि चोरी की बाद घटना को लेकर निदेशक के प्रबंधक पंकज शुक्ला ने सरस्वती नगर थाना में केस दर्ज कराया था। चोरी के इस कांड का खुलासा घर में लगे सीसीटीवी कैमरे से हुआ। जिसमें चोरी करते टिंकू यादव साफ तौर पर नजर आ रहा है। क्राइम ब्रांच पुलिस ने यह भी बताया कि टिंकू यादव ने ही चोरी के बाद अपने एक मोसेरे भाई मनीष यादव व रंजय यादव को गिरिडीह से रायपुर चोरी का समान छिपाने के लिए बुलाया था। दोनों को पहले ही गिरफ्तार कर दोनों के पास से नगद रुपये भी बरामद कर लिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Giridih

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×