पलमरूआ में जाहेरधान निर्माण को ले सीओ ने 24 घंटे में जवाब देने को कहा

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
तिसरी प्रखंड अंतर्गत पलमरूआ में एक समुदाय द्वारा सांसद और पुलिस पदाधिकारी की उपस्थिति में आदिवासी और हिन्दू धर्म के जाहेरथान का शिलान्यास करने से रोकने के विरोध में गुरुवार को पलमरूआ के ग्रामीण कमल रविदास और राजेंद्र प्रसाद साहू, पलमरूआ मुखिया ने भाजपा के शीर्ष नेताओं के साथ अंचल कार्यालय पहुंच कर सीओ को आवेदन दिया है। आवेदन में कहा है कि पलममरूआ मौजा हिन्दुओं का पूजा स्थल है। कूड़ा करकट वहां भर दिया जाता है उससे बचाव के लिए पलमरूआ के ग्रामीणों ने कोडरमा सांसद रवींद्र राय से गुहार लगायी। जनता की गुहार को सुनकर सांसद ने जाहेरथान की चहारदीवारी के लिए 3 लाख रुपए आवंटित किए और शिलान्यास के लिए सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ स्थल पर पहुंचे। शिलान्यास करने की प्रक्रिया की जा रही थी। उसी समय पलमरुआ के एक समुदाय के लोग जाहेरथान शिलान्यास का विरोध कर दिया। शांति बनाए रखने के लिए सांसद रवींद्र कुमार राय ने जाहेरथान का शिलान्यास किये बिना ही बैरंग वापस चले गए। शिलान्यास को रोकने वालों में पलमरुआ निवासी करीम मियां, अजीम मियां, मुस्तफा, मुबारक, रेयाज मियां, जलवा खातून, मिनहाज, बारिस, फजदा खातून, खुशबू खातून, गुलाम, इरफान, शबनम खातून, अनवर आदि थे।

सीओ को आवेदन देते ग्रामीण।

क्या कहते हैं सीओ
इस संबंध में सीओ सुनील प्रकाश ने कहा पलमरुआ ग्रामीणों के आवेदन के आलोक में आवेदन में दिए सभी व्यक्ति को 24 घण्टे के भीतर जवाब पेश करने को कहा गया है।

खबरें और भी हैं...