पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Giridih News Newly Appointed Teachers Welcome In The Auditorium Of Sir Jesse Bose Girls High School

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सर जेसी बोस बालिका उच्च विद्यालय के सभागार में नव नियुक्त शिक्षकों का स्वागत

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नव नियुक्त हाईस्कूल शिक्षकों का स्वागत समारोह शनिवार मध्याह्न सर जेसी बोस बालिका उच्च विद्यालय के सभागार में हुआ। समग्र शिक्षा अभियान को समन्वय से सशक्त बनाने और नये शिक्षक सदस्यों का परिचय बढ़ाने और संघ के नीति व सिद्धांतों से अवगत कराने एवं सुदृढ़ीकरण के लिए आयोजित स्वागत समारोह में मंचासीन अतिथियों में झारखंड राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ के मुख्य अतिथि महासचिव रवींद्र कुमार सिंह ने कहा कि रास्ते सही और सोच नकारात्मक नहीं हो तो कुछ भी लक्ष्य हासिल किया जा सकता है।

उन्होंने कोठारी आयोग का दृष्टांत दोहराते कहा कि भारत के भाग्य का निर्माण स्कूल की कक्षाओं से ही होता है। उन्होंने नये शिक्षकों से आह्वान किया कि संगठन की एकता से कोई भी कार्य सरल हो जाते हैं। सेंट्रल एडवाइजरी बोर्ड ऑफ एजुकेशन (कैब) का उद्धरण देते कहा कि शिक्षक फाइल नहीं बल्कि संस्कृति का निर्माण करते हैं। उन्होंने सभाकक्ष में उपस्थित सभी नव नियुक्त शिक्षकों को जिम्मेवारी का बखूबी निर्वहन करने की बात कही। उन्होंने कहा कि सबों को संगठन से जुड़ अध्यापन कार्य को आगे बढ़ाना है। धनबाद जिला झारामाशिसं सचिव किशोर कुमार सिंह ने कहा कि 1984 में हाईस्कूल शिक्षकों का मूल वेतन 850 रुपए थे। लेकिन अभी जो सम्मानजनक वेतन है वह संगठन के आंदोलन का प्रतिफल है। झारखंड के शिक्षक राजकीयकृत होते हैं जिनका वेतन भुगतान कोषागार से होता है। बता दें के इसके लिए पहले झारखंड राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ ने पहल की थी। कहा कि शिक्षकों की सेवा पुस्तिका योगदान के साथ खुलनी चाहिए। व्यवस्था में बदलाव के लिए समय-समय पर आंदोलन की जरूरत है।

कहा कि महिलाओं के लिए छह महीने का मातृत्व अवकाश है वहीं पुरुषों के लिए 15 दिनों का साल में पितृत्व अवकाश का प्रावधान है। बनियाडीह +2 के प्राचार्य चंद्रमणी प्रसाद ने कहा कि जिला, राज्य स्तर पर संगठन कमजोर नहीं हो इसके लिए नायक के साथ सिपाही चले। ज्ञानसेतु के संदर्भ में प्रसाद ने कहा कि या तो जैक बोर्ड का रिजल्ट झूठा है या ज्ञानसेतु झूठा है। ऐसे में पाठ्यक्रम का क्या होगा। प्रधानाध्यापक के अधिकार क्षेत्र में कुछ छुटि्टयां होती थी लेकिन वर्तमान झारखंड सरकार ने डीईओ कार्यालय के क्षेत्राधिकार में दे दिया जिसके कारण शिक्षकों को छुट्‌टी के लिए डीईओ कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ेगा। समय-समय पर राज्यस्तरीय मीटिंग की जरूरत पर बल दिया। +2 हाईस्कूल शिक्षक संघ के जिला सचिव विजय कुमार ने कहा कि शिक्षक छात्र हित में अध्यापन कार्य करें। एकता का होना जरूरी है ताकि मांगों को सरकार तक पहुंचाया जा सके। +2 के श्यामदेव प्रसाद राय ने कहा कि शिक्षक को समाज में दिक्कत नहीं होता। कार्यक्रम की सफलता में सर जेसी बोस बालिका विद्यालय के प्रधानाध्यापक देवेंद्र प्रसाद सिंह, मंच संचालक मुन्ना प्रसाद कुशवाहा, शिक्षक उपेंद्र राय, समां परवीन समेत कई शिक्षकों की भागीदारी रही। सभी शिक्षकों को परिचय प्राप्त किया गया।

समारोह को संबोधित करते संघ के पदाधिकारी।

संघ को एकजुट होना जरूरी : प्रदेश अध्यक्ष

झारखंड स्टेट प्राइमरी टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष अशोक कुमार मिश्र ने कहा कि समग्र शिक्षा अभियान के आने से एक-दूसरे संघ को सम्मानित करने का अवसर मिल रहा है। संघों को सरकार से अपनी बात दृढ़ता से रखने के लिए एकजुट होने की जरूरत है। नव नियुक्त शिक्षक अध्यापन कार्य को बखूबी निभावें। +2 शिक्षक संघ के श्यामदेव प्रसाद राय ने कहा कि पुराने शिक्षक पूर्व में जो नियमावली बनाये उसके उपजाए फसल को वर्तमान में काट रहे हैं। झाराप्राशिसं के सचिव सह राज्य उपाध्यक्ष मैनेजर प्रसाद सिंह ने कहा कि सदस्य के तौर पर नव नियुक्त हाईस्कूल शिक्षकों को संगठन के प्रति समर्पित होना चाहिए। उन्होंने कहा कि संघे शक्ति कलियुगे आशय स्पष्ट करते कहा कि कलियुग में संगठन का बड़ा महत्व है। वहीं प्राथमिक शिक्षक संघ के विनोद राम ने कहा कि संगठन की ताकत सदस्य में निहित होता है। अगर शिक्षकों के हित में प्राथमिक शिक्षक संघ को एकजुट होने की जरूरत पड़ी तो उसके लिए भी वे आगे आने को तैयार हैं।

समारोह में उपस्थित हाईस्कूल के नवनियुक्त शिक्षक-शिक्षिकाएं।

झामाशिसं ने नवनियुक्त शिक्षकों को गुमराह करने का लगाया आरोप
सिटी रिपोर्टर | गिरिडीह

झारखंड माध्यमिक शिक्षक संघ गिरिडीह इकाई के अध्यक्ष और सचिव ने शनिवार शाम संयुक्त हस्ताक्षरित बयान जारी कर कहा है कि स्वयंभू शिक्षक संगठन झारखंड राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ, गिरिडीह ने नव नियुक्त शिक्षकों के सममान में समारोह आयोजित कर उन्हें गुमराह करने का काम किया है। जिला में 09 सौ माध्यमिक शिक्षकों की बहाली हुई जिनमें कुछ वस्तु स्थिति समझ नहीं पाने के कारण उक्त समारोह में भाग लिये। आयोजन में संख्या बल दर्शाने के लिए विभिन्न प्राथमिक शिक्षक संगठनों को शामिल कर कुछ नव नियुक्त शिक्षकों को गुमराह करने का काम किया गया। अध्यक्ष देवेंद्र कुमार सिंह, सचिव राजेंद्र प्रसाद ने संयुक्त आरोप में कहा है कि उनके संगठन की अप्रत्यक्ष आलोचना की गई जिसका संगठन निंदा करती है। बयान में उल्लेख किया है कि पदस्थापना में पारदर्शिता का अभाव एवं मनमाने ढंग का विरोध झामाशिसं ने बीते 28 जुलाई को डीसी एवं विभाग के समक्ष कर चुका है। इस बाबत डीसी आश्वासन भी दे चुके हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें