बुढ़ई मेले से लौटी किशोरी ने फांसी लगा दी जान परिजनों ने सामूहिक दुष्कर्म का लगाया आरोप

Giridih News - बुढ़ई मेला से वापस लौटने के बाद 16 वर्षीय बालिका ने खुद के दुपट्‌टे से पंखे के हूक के सहारे फांसी लगाकर आत्महत्या कर...

Dec 04, 2019, 08:15 AM IST
Bangabad News - teenager returned from old age fair hanged family members accused of gang rape
बुढ़ई मेला से वापस लौटने के बाद 16 वर्षीय बालिका ने खुद के दुपट्‌टे से पंखे के हूक के सहारे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मामला बेंगाबाद प्रखंड का है। बालिका अपने घर से करीब 11 किलोमीटर दूर देवघर जिला स्थित बुढ़ई मेला देखने सोमवार पूर्वाह्न 10 बजे निकली थी। देर शाम तक जब वह घर वापस नहीं लौटी तो उसकी बहन ने उसे फोन से संपर्क किया, लेकिन उसने फोन रिसीव नहीं किया। लगातार परिजन संपर्क करने की कोशिश में जुटे रहे, लेकिन संपर्क नहीं हो पाया। मंगलवार अहले सुबह 5 बजे वह घर जैसे ही पहुंची कि उसकी बहन ने उस पूछा कि रात भर कहां थी। इसकी जानकारी मौसी को अभी दे रही हूं। वहीं उनकी बहन पड़ोस के गांव मौसी के यहां शिकायत करने चली गई। इसी बीच बालिका ने घर में ही दुपट्टे से गले में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों का आरोप है कि बालिका के साथ गैंगरेप की घटना हुई है और दरिंदों ने उसे घर से कुछ दूरी पर लाकर छोड़ दिया। जिससे लोक-लाज से उसने किसी को बताए बगैर आत्महत्या कर ली। पुलिस से मामले की जांच कर कार्रवाई की मांग की गई है। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस संबंध में थाना प्रभारी प्रशांत कुमार ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा कि किशोरी के सामूहिक दुष्कर्म हुआ है या नहीं। फिलहाल परिजनों के बयान पर मामला दर्ज किया जा रहा है। इधर इस घटना की खबर सुन कर प्रमुख रामप्रसाद यादव, उपप्रमुख उपेंद्र कुमार सहित कई प्रतिनिधि पहुंचे और परिजनों को ढांढ़स बधाया। वहीं किशोरी की मौसी ने बताया कि मेले में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना हुई होगी जिसके कारण उसने लोक-लाज में आत्महत्या कर ली है। हालांकि पुलिस इस मामले को संदेहास्पद मान जांच में जुट गई है।

किशोरी की आत्महत्या के बाद जांच करने पहुंची पुलिस।

भास्कर न्यूज | बेंगाबाद

बुढ़ई मेला से वापस लौटने के बाद 16 वर्षीय बालिका ने खुद के दुपट्‌टे से पंखे के हूक के सहारे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मामला बेंगाबाद प्रखंड का है। बालिका अपने घर से करीब 11 किलोमीटर दूर देवघर जिला स्थित बुढ़ई मेला देखने सोमवार पूर्वाह्न 10 बजे निकली थी। देर शाम तक जब वह घर वापस नहीं लौटी तो उसकी बहन ने उसे फोन से संपर्क किया, लेकिन उसने फोन रिसीव नहीं किया। लगातार परिजन संपर्क करने की कोशिश में जुटे रहे, लेकिन संपर्क नहीं हो पाया। मंगलवार अहले सुबह 5 बजे वह घर जैसे ही पहुंची कि उसकी बहन ने उस पूछा कि रात भर कहां थी। इसकी जानकारी मौसी को अभी दे रही हूं। वहीं उनकी बहन पड़ोस के गांव मौसी के यहां शिकायत करने चली गई। इसी बीच बालिका ने घर में ही दुपट्टे से गले में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों का आरोप है कि बालिका के साथ गैंगरेप की घटना हुई है और दरिंदों ने उसे घर से कुछ दूरी पर लाकर छोड़ दिया। जिससे लोक-लाज से उसने किसी को बताए बगैर आत्महत्या कर ली। पुलिस से मामले की जांच कर कार्रवाई की मांग की गई है। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस संबंध में थाना प्रभारी प्रशांत कुमार ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा कि किशोरी के सामूहिक दुष्कर्म हुआ है या नहीं। फिलहाल परिजनों के बयान पर मामला दर्ज किया जा रहा है। इधर इस घटना की खबर सुन कर प्रमुख रामप्रसाद यादव, उपप्रमुख उपेंद्र कुमार सहित कई प्रतिनिधि पहुंचे और परिजनों को ढांढ़स बधाया। वहीं किशोरी की मौसी ने बताया कि मेले में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना हुई होगी जिसके कारण उसने लोक-लाज में आत्महत्या कर ली है। हालांकि पुलिस इस मामले को संदेहास्पद मान जांच में जुट गई है।

इधर बहन मौसी को बताने गई तब तक लगा ली फांसी

किशोरी की बहन ने बताया कि मौसी को लेकर घर पहुंची तो कमरे में बहन को फंदे से झूलते देख शोर मचाने लगी। हालांकि आनन-फानन में दुपट्टे को काटकर बहन को नीचे उतारा तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। बालिका के पिता बेंगलुरु में काम करते हैं। वहीं उसका भाई सूरत में काम करता है। मां दिमागी तौर पर बीमार रहती है। किशोरी की एक छोटी बहन और एक छोटा भाई घर में था। मृत बालिका की मौसी ने बताया कि एकाएक फांसी के फंदे पर झूल इहलीला समाप्त करना इससे साफ प्रतीत होता है कि उसके साथ मेला में सामूहिक दुष्कर्म की घटना हुई है। लोक-लाज के कारण वह कुछ बोल नहीं सकी और आत्महत्या का रास्ता चुन लिया। यदि उनका मोबाइल कॉल लोकेशन को खंगाला जाए तो इसके आरोपी तक पहुंचा जा सकता है। हालांकि बेंगाबाद पुलिस मृत बालिका के मोबाइल को कब्जे में ले लिया है। इधर इसकी सूचना मिलते ही एसडीपीओ कुमार गौरव, इंस्पेक्टर गुलाब सिंह, थाना प्रभारी प्रशांत कुमार सदल बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। वहीं शव को कब्जे में लेते हुए अंत्यपरीक्षण के लिए सदर अस्पताल गिरिडीह भेज दिया गया है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद होगा खुलासा : थानेदार

थाना प्रभारी प्रशांत कुमार ने कहा कि मामला संदेहास्पद लग रहा है। शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामले का खुलासा पूर्ण रूप से किया जाएगा। हालांकि बालिका की आत्महत्या करना संदेहास्पद प्रतीत हो रहा है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। बालिका के पास मौजूद मोबाईल का कॉल डिटेल भी खंगाला जा रहा है। यदि उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ है तो जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

X
Bangabad News - teenager returned from old age fair hanged family members accused of gang rape
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना