गोला

  • Hindi News
  • Jharkhand News
  • Gola
  • तय रूट से अलग मार्ग पर विसर्जन जुलूस ले जाने पर मारपीट में दो घायल, चार गिरफ्तार
--Advertisement--

तय रूट से अलग मार्ग पर विसर्जन जुलूस ले जाने पर मारपीट में दो घायल, चार गिरफ्तार

थाना क्षेत्र के कुम्हरदगा पंचायत के तिरला गांव में मंगलवार की देर शाम निर्धारित रास्ते से अलग मार्ग पर विजर्सन के...

Dainik Bhaskar

Jan 25, 2018, 02:20 AM IST
थाना क्षेत्र के कुम्हरदगा पंचायत के तिरला गांव में मंगलवार की देर शाम निर्धारित रास्ते से अलग मार्ग पर विजर्सन के लिए सरस्वती प्रतिमा ले जाने का आरोप लगाकर एक समुदाय के लोगों ने जुलूस में शामिल लोगों से मारपीट कर दी। घटना में दो बच्चे अमृत मुंडा और सविता कुमारी दोनों 12 वर्ष घायल हो गए। बाद में गोला थाना प्रभारी अर्जुन कुमार मिश्रा ने सदल बल वहां पहुंच कर स्थिति को नियंत्रण में किया।

मौके से पुलिस ने मारपीट के आरोप में जब्बार अंसारी, आबिद अंसारी, बेलाल अंसारी और आशिक अंसारी को हिरासत में ले लिया और थाने ले गए। बाद में चारों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। वहीं बिनोद महतो के आवेदन पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने 13 नामजद और चार-पांच अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है।

क्या है मामला :इस संबंध में घायल अमृत मुंडा ने बताया कि वे 30 से 40 बच्चों के साथ हर साल की भांति इस वर्ष भी शांतिपूर्ण ढंग से प्रतिमा विसर्जन करने के लिए रिक्शे से ले जा रहे थे। इसी दौरान गांव के ही रेहाना खातून, गयासुदृीन अंसारी, अाबिद अंसारी तलवार और फारसा लेकर आये और रिक्शा रोक दिया। जब उनसे इसका कारण पूछा गया तो वे लोग कहने लगे कि इस रास्ते से होकर कभी भी प्रतिमा नहीं गुजरी है इसलिए आगे जाने नही देंगे। जबकि विसर्जन में शामिल लोगों का कहना था कि इसी रास्ते में एक हिंदू व्यक्ति का घर पड़ता है। वे प्रतिमा लेकर उसी के घर आरती के लिए जा रहे हैं। वहीं दूसरे समुदाय के लोगों का कहना था कि इस रास्ते से होकर कभी भी प्रतिमाएं नहीं गुजरा थी। इसी को लेकर बात बढ़ने लगी और मारपीट हो गई।

घटना के दोषियों पर होगी कड़ी कार्रवाई : एसपी

पुलिस अधीक्षक कौशल किशोर ने मारपीट की घटना को गंभीर मामला बताते हुए कहा कि किसी के भी धर्म को ठेस पहुंचाने का अधिकार किसी को नही है। घटना में जो लोग दोषी होंगे उन्हें बख्शा नहीं जायेगा। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि फरार चल रहे अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी जल्द होगी।

घटना के बाद थाना पहुंचे दोनों समुदाय के लोग

बुधवार की सुबह दोनों समुदाय के लोगों की भीड़ गोला थाने में जुटनी शुरू हो गई। देखते ही देखते थाना में लोगों का हुजूम लग गया। इस बीच मामले की जांच करने पहुंचे एएसपी श्रीकांत खोटरे ने थाने में घायल बालक से पूछताछ की। इसके बाद उन्होंने दूसरे समुदाय के लोगों से भी पूछताछ की। पूछताछ के बाद उन्होंने घटना में दोषी लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का निर्देश थाना प्रभारी अर्जुन कुमार मिश्रा को दिया।

गोला में सरस्वती प्रतिमा के विजर्सन जुलूस में मारपीट के बाद पहुंची पुलिस।

X
Click to listen..