• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Gola
  • पुलिस ने फरार आरोपी को पकड़ा, हथियार के साथ थाना आए ग्रामीण उसे छुड़ा ले गए
--Advertisement--

पुलिस ने फरार आरोपी को पकड़ा, हथियार के साथ थाना आए ग्रामीण उसे छुड़ा ले गए

बरलंगा पुलिस ने फरार चल रहे औंराडीह निवासी बहादुर तांती को रविवार को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि बाद में ग्रामीणों...

Dainik Bhaskar

Jan 23, 2018, 02:20 AM IST
बरलंगा पुलिस ने फरार चल रहे औंराडीह निवासी बहादुर तांती को रविवार को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि बाद में ग्रामीणों के दबाव में उसे छोड़ देना पड़ा। जानकारी के अनुसार बहादुर के खिलाफ गोला थाना में वर्ष 2008 में एक मामला दर्ज था, जिसमें वह फरार चल रहा था। इसी दौरान बरलंगा थाना प्रभारी संतोष गुप्ता ने उसे रविवार को पूछताछ के बहाने थाने बुलाया और गिरफ्तार कर लिया।

इसकी खबर मिलते ही सोमवार की सुबह ग्रामीणों ने हरवे-हथियार के साथ थाने का घेराव कर दिया। थाना घेर रहे ग्रामीणाें ने थाना प्रभारी के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए बहादुर को छोड़ने की मांग की। पर थाना प्रभारी ने उसके खिलाफ नामजद प्राथमिकी होने की बात कहकर छोड़ने से इंकार कर दिया। इसके बाद ग्रामीण उग्र हो गए और थाना गेट के समीप ही बैठ गए। इस दौरान ग्रामीण युवक को छोड़ने की मांग पर नारेबाजी करने लगे। इसकी खबर एसपी कौशल किशोर को दी गई। एसपी ने आंदोलनरत ग्रामीणों को बातचीत के लिए रामगढ़ बुलाया। यहां लंबी बातचीत के बाद एसपी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए थाना प्रभारी को तत्काल बहादुर को छोड़ने का निर्देश दिया। जिसके बाद उसे थाना से ही छोड़ दिया गया। इससे पूर्व ग्रामीण लुकैयाटांड़ में जमा होकर जुलूस के साथ थाना पहुंचे थे। आंदोलन करने वालों में जीतलाल टुडु, निर्मल कुमार बेसरा, गणेश मुर्मू, महालाल टुडू, कालीदास टुडू, अनिता देवी, शांति देवी, सुशीला देवी, लखमनी देवी, लक्ष्मनिया देवी सहित सैकड़ों महिला व पुरूष मौजूद थे।

एक दिन रखा हिरासत में

मामले में फरार चल रहे औंराडीह निवासी बहादुर तांती को पुलिस ने रविवार को सुबह दस बजे पकड़ा था। इसके बाद उससे लंबी पूछताछ करने के बाद सोमवार की दोपहर छोड़ दिया।

बहादुर को पीआर बांड पर छोड़ा : थाना प्रभारी

इस संबंध में थाना प्रभारी संतोष गुप्ता ने दूरभाष पर बताया कि पूर्व के एक मामले में बहादुर फरार चल रहा था इसलिए उसे आवश्यक पूछताछ के लिए थाना बुलाया गया था। पूछताछ के बाद उसे पीआर बांड पर छोड़ा गया है।

बरलंगा थाने से बहादुर तांती को छुड़ाने आए ग्रामीण हरवे-हथियार और गाजे-बाजे के साथ प्रदर्शन करते हुए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..