गोला

  • Hindi News
  • Jharkhand News
  • Gola
  • बच्चे देश के भविष्य हैं, इन्हें गढ़ने में मां की भूमिका अहम
--Advertisement--

बच्चे देश के भविष्य हैं, इन्हें गढ़ने में मां की भूमिका अहम

प्रतियोगिता के विजेता बच्चों को पुरस्कृत करते समाजसेवी। गोला के बालिका मध्य विद्यालय में हुई प्रतियोगिता ...

Dainik Bhaskar

Jan 29, 2018, 06:35 PM IST
प्रतियोगिता के विजेता बच्चों को पुरस्कृत करते समाजसेवी।

गोला के बालिका मध्य विद्यालय में हुई प्रतियोगिता

भास्कर न्यूज| गोला

बच्चे देश के भविष्य होते हैं। उन्हें गढ़ने की जिम्मेदारी मां पर विशेष रूप से होती है। उक्त बातें सेवा निवृत्त शिक्षक सह समाजसेवी छट्ठू प्रसाद ने क्षेत्र की बालिका मध्य विद्यालय गोला में आयोजित बच्चों की प्रतियोगिता को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि मां में वह क्षमता होती है कि वे बच्चे को राम भी बना सकती है और रावण भी।

इस दौरान स्कूल के बच्चों के बीच कई प्रतियोगिता भी की गई। जिसमें अनु कुमारी प्रथम, निशा कुमारी एवं साकेत कुमार द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त किया। इससे पूर्व कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि बीडीओ श्रीमान मरांडी ने दीप प्रज्वलित कर किया। साथ ही उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले बच्चों को पुरस्कार दिया गया। मौके पर बीईईओ राजेन्द्र प्रसाद तिवारी, दुखहरण पोद्दार, चतकुपाल चौधरी, देवलाल करमाली, धजेस्वर महतो, दिनेश राम नायक, रतिराम विष्वकर्मा, रेखा कुमारी,दीपक नायक,सुमिता कुमारी, पुतुल कुमारी,शीला चक्रवर्ती, सुनीता कुमारी सिन्हा, सीमा कुमारी , सत्येंद्र राम आदि मौजूद थे।

X
Click to listen..