• Home
  • Jharkhand News
  • Gola
  • मोहनबेड़ा में सरना पूजा कर वन देवता से मांगी क्षेत्र की सुख-शांति
--Advertisement--

मोहनबेड़ा में सरना पूजा कर वन देवता से मांगी क्षेत्र की सुख-शांति

प्रखण्ड क्षेत्र के कोराम्बे पंचायत के मोहनबेड़ा गांव स्थित नोहड़ी टुंगरी में शुक्रवार को आदिवासी समाज के लोगों ने...

Danik Bhaskar | Apr 07, 2018, 02:25 AM IST
प्रखण्ड क्षेत्र के कोराम्बे पंचायत के मोहनबेड़ा गांव स्थित नोहड़ी टुंगरी में शुक्रवार को आदिवासी समाज के लोगों ने सरना पूजा सह आदिवासी मिलन समारोह का आयोजन किया। इस दौरान सर्वप्रथम स्थानीय पाहन धनेश्वर बेदिया के द्वारा वन देवता व सखुआ के पेड़ों की विधिवत पूजा अर्चना कर मुर्गे की बलि देते हुए क्षेत्र में सुख समृद्धि व शांति की कामना की। तत्पश्चात बलि के मुर्गों का खिचड़ी बना प्रसाद स्वरूप सभी लोगों ने ग्रहण किया। ग्रामीणों ने बताया कि सरना पूजा हमारे पूर्वजों के समय से ही चलती आ रही है। इस पूजा के माध्यम से आदिवासी लोग प्रकृति व पेड़ पौधों को बचाने का संकल्प लेते हैं। साथ ही स्थानीय युवक-युवतियां पारंपरिक ढोल नगाड़े व मांदर की थाप पर थिरकते रहे।

शाम को गांव के सभी घरों के द्वार पर पहुंच कर पाहन ने सखुआ पेड़ की टहनी कोे खोंसते हुए मंगलकामना की। मौके पर तुलुस बेदिया, चरकी देवी, ओहिला देवी, सुकरा बेदिया, चैता बेदिया, सुबाला देवी, राजेश्वर बेदिया, लखी बेदिया, आशिर्वाद बेदिया, लुखा बेदिया, चिंता देवी, सबिता देवी, रघु मुण्डा, मंगल बेदिया, श्रीपद बेदिया, किस्टो बेदिया, नारायण बेदिया, बालेश्वर बेदिया, रतु बेदिया, धीरेन बेदिया, सुलोचना देवी, कलावती देवी के अलावे सैकड़ों ग्रामीण महिला पुरुष मौजूद थे। इधर हेसल में भी सरहुल पूजा का आयोजन किया गया। जिसमें साल वृक्षों की विधिवत पूजा अर्चना कर प्राकृतिक धरोहरों को बचाने का संकल्प लिया गया। मौके पर राजकुमार बेदिया, दामोदर महतो, रंजन बेदिया, प्रमोद बेदिया, कमलनाथ बेदिया, बालगोविंद बेदिया, उमेश बेदिया, कनिलाल बेदिया सहित कई लोग मौजूद थे।

गोला प्रखंड के कोराम्बे पंचायत के मोहनबेड़ा में आयोजित सरना पूजा के दौरान मौजूद लोग।

यज्ञ से क्षेत्र में सुविचार का होता है प्रवाह

गोला| प्रखंड क्षेत्र के कुम्हारदगा गांव में आयोजित पांच दिवसीय गायत्री महायज्ञ के अंतिम दिन मुख्य अतिथि के रुप में पूर्व विधायक अर्जुन राम उपस्थित हुए। इस दौरान कमेटी के पदाधिकारियों ने उनका फूल माला पहनाकर स्वागत किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यज्ञ के आयोजन से क्षेत्र में सुविचार का प्रवाह होता है। साथ ही लोगों को भगवान का आशीर्वाद मिलता है। पूर्व विधायक ने कहा कि यहां पर जल्द ही मंदिर का निर्माण कराया जायेगा। इसके बाद रामवृक्ष पांडेय, विनोद पांडेय के द्वारा प्रवचन प्रस्तुत किया गया।जिसे सुनने आसपास के हजारों भक्तगण मौजूद थे। मौके पर मुखिया ललिता देवी, जगत महतो, लालकिशुन महतो, पूर्व सरपंच सूरजनाथ महथा, पन्नालाल महथा, बिंदेश्वर महतो, दशरथ महथा, जयराम महथा, महावीर महतो, देवलाल महथा, उनु राम महथा, चेतन महथा, विजय कुमार महथा, नारायण महतो, सावित्री देवी, अखिलेश्वर महथा, महानंद महथा, सरजू महथा, कैलाश करमाली, कजरु करमाली, शिव पूजन झा, अमित महथा, स्कूल कुमार, सुरेंद्र महथा, अरुण कुमार आदि मौजूद थे।