• Home
  • Jharkhand News
  • Gola
  • बच्ची को गड्‌ढे में डूबता देख मां ने छलांग लगाकर बचा ली जान, पर खुद डूब गई
--Advertisement--

बच्ची को गड्‌ढे में डूबता देख मां ने छलांग लगाकर बचा ली जान, पर खुद डूब गई

प्रखंड क्षेत्र के बंदा गांव में बुधवार को एक तालाबनुमा गड्ढे में नहाने के दौरान डूब रही अपनी बेटी को एक महिला ने...

Danik Bhaskar | Apr 26, 2018, 02:35 AM IST
प्रखंड क्षेत्र के बंदा गांव में बुधवार को एक तालाबनुमा गड्ढे में नहाने के दौरान डूब रही अपनी बेटी को एक महिला ने छलांग लगाकर बचा लिया, पर इस क्रम में वह खुद डूब गई। जानकारी के अनुसार 25 वर्षीय चिंता देवी पति रविन्द्र साव अपनी पांच वर्षीय बेटी प्रियांशु कुमारी को लेकर ईंट बनाने वाले गड्ढे में कपड़ा धोने व नहाने गई थी।

वहां महिला कपड़ा धोने लगी व बच्ची नहाने के लिए गड्ढ़े में उतर गई। इस दौरान बच्ची गड्ढ़े के पानी में डूबने लगी। बच्ची को डूबता देखकर मां ने पानी में छलांग लगा दी। इस दौरान महिला ने मशक्कत से बच्ची को डूबने से बचा लिया और पानी से बाहर फेंक दिया परंतु वह अपने को डूबने से बचा न सकी। घटना में बच्ची भी घायल हो गई। इस बात का पता चलते ही ग्रामीणों ने एकजुट होकर महिला को पानी से बाहर निकाला तो देखा कि महिला बेहोश हो गई है। आनन-फानन में ग्रामीण उसे उप स्वास्थ केंद्र गोला ले जा रहे थे, इसी क्रम में रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। फिर भी तसल्ली के लिए उसे स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया लेकिन डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंचे आईपीएस किशोर कुमार रजक व थाना प्रभारी अर्जुन कुमार मिश्रा ने परिजनों से पूछताछ कर शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल रामगढ़ भेज दिया। बताया गया कि मृतका का अपना पैतृक गांव बड़कागांव विधानसभा क्षेत्र के तलसवार गांव है। उसका पति रवींद्र साव वर्षों से रजरप्पा मंदिर परिक्षेत्र में फूल-प्रसाद की दुकान चलाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करता है। वे लोग गांव में एक छोटा सा मकान बनाकर रहते थे। शव का अंतिम संस्कार महिला के पैतृक गांव तलसवार में किया जाएगा।

डूबने से बची बच्ची प्रियांशु।

घटना की जांच करते डीएसपी।