• Hindi News
  • Jharkhand
  • Gola
  • गरीब बच्चों को दो वर्ष से नि:शुल्क शिक्षा दे रही है शीतल
--Advertisement--

गरीब बच्चों को दो वर्ष से नि:शुल्क शिक्षा दे रही है शीतल

Gola News - शिक्षा के व्यवसायीकरण के बीच गरीब हिंदू-मुस्लिम परिवार के बच्चों को सेवा भाव से शिक्षित बनाने का जुनून समाज के लिए...

Dainik Bhaskar

May 15, 2018, 02:35 AM IST
गरीब बच्चों को दो वर्ष से नि:शुल्क शिक्षा दे रही है शीतल
शिक्षा के व्यवसायीकरण के बीच गरीब हिंदू-मुस्लिम परिवार के बच्चों को सेवा भाव से शिक्षित बनाने का जुनून समाज के लिए प्रेरणादायक है। गोला रोड की शीतल अग्रवाल पिछले दो वर्षों से ऐसे गरीब परिवार के 70 बच्चों को ट्यूशन पढ़ा रही है। वे एलकेजी से लेकर 8 क्लास के बच्चों को मुफ्त में पढ़ाई कराने के साथ पाठ्य सामाग्री भी उपलब्ध करा रही है। इसमें ऐसे परिवार के बच्चे शामिल हैं जिनके पास स्कूल भेजने से लेकर जरूरत की सामान भी नहीं खरीदने को पैसे नहीं होते। शीतल कहती है कि गरीब बच्चों को शिक्षित बनाना ही उनका उद्देश्य है। वे ऐसे बच्चों के लिए जीवन समर्पित करना चाहती है।

शीतल की सेवा भाव ईश्वर प्रदत्त प्रेरणा : झा

सम्मान कार्यक्रम में अतिथि शिक्षक के रुप में अग्रसेन डीएवी भरेचनगर के शिक्षक केएम झा शामिल हुए। यहां, उन्हाेंने बच्चाें और उनके अभिभावकों को शिक्षा के महत्व को बताते हुए कहा कि शिक्षा ही जीवन की सफलता की कुंजी है। उन्होंने बच्चों को बेहतर भविष्य व शिक्षा के माध्यम से जीवन संवारने से संबंधित बातों को बताया। उन्होंने कहा कि शीतल अग्रवाल ने शिक्षा का महादान कर रही है। उनकी यह सेवा भाव ईश्वर प्रदत्त प्रेरणा है। उन्होंने, बच्चाें को अभिभावकों से कहा कि समय प्रबंध व बच्चों के खानपान पर ध्यान दें।

टॉपर हुए सम्मानित

पढ़ाई करने वाले टॉपर बच्चों को सोमवार को सम्मानित किया गया। अतिथि शिक्षक केएम झा ने बच्चों को पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया। इसमें, एलकेजी की डॉली, क्लास 4 की संजया, क्लास 6 की समीक्षा, अंजली, पिंकी, क्लास 3 की रोशनी, क्लास 8 की प्रिंस, क्लास 4 की रिमझिम, क्लास 2 की संजू, क्लास 6 की शुभम्, क्लास 1 के आर्यन, क्लास 4 के महताब, श्रीया, एलकेजी की राधिका आदि छात्र-छात्राएं शामिल है। बच्चों के पुरस्कार पाकर माताएं भावुक हो गई। एक छात्रा ने अपनी शिक्षक शीतल अग्रवाल को भगवान तक का दर्जा दे दिया।

अपनी शिक्षक के बारे में बोलती छात्रा।

X
गरीब बच्चों को दो वर्ष से नि:शुल्क शिक्षा दे रही है शीतल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..