• Home
  • Jharkhand News
  • Gola
  • मुंबई के मरीन ड्राइव में मिला रजरप्पा से अपहृत छात्र सौरभ, पुलिस हुई रवाना
--Advertisement--

मुंबई के मरीन ड्राइव में मिला रजरप्पा से अपहृत छात्र सौरभ, पुलिस हुई रवाना

बरामदगी की खबर के बाद राहत की सांस लेते सौरभ के माता-पिता। अपहरणकर्ताओं ने पिता के फोन पर बताया, सौरभ हमारे चंगुल...

Danik Bhaskar | Apr 09, 2018, 02:40 AM IST
बरामदगी की खबर के बाद राहत की सांस लेते सौरभ के माता-पिता।

अपहरणकर्ताओं ने पिता के फोन पर बताया, सौरभ हमारे चंगुल से भाग गया : मामले का पटाक्षेप रविवार को उस समय हुआ, जब सौरभ के पिता अशोक साव के मोबाइल नंबर 9815549886 पर एक अन्य मोबाइल नं. 8355937530 से कॉल आया। कॉल करने वाले ने बताया कि सौरभ हम लोगों के चंगुल से भाग गया है। इस सूचना के बाद अशोक ने मामले की जानकारी जिले की एसपी एस विजयलक्ष्मी को दी। इस बीच सौरभ ने मरीन ड्राइव के एक होटल पहुंचकर अपनी पूरी कहानी बताई। कहानी सुनकर होटल वाले ने उसे खाना खिलाया और इसकी जानकारी मरीन ड्राइव थाने को दी। मरीन ड्राइव पुलिस ने वहां पहुंचकर सौरभ को अपने कब्जे में ले लिया।

सबसे बड़ा सवाल

किडनैप हुआ था या खुद मुंबई घूमने गया था सौरभ?

रजरप्पा पुलिस दबी जुबान से कह रही है कि सौरभ का किडनैप नहीं हुआ था, बल्कि वह खुद घूमने के लिए मुंबई गया था। हालांकि परिजन यह मानने को तैयार नहीं हैं। अब इस सस्पेंस से परदा सौरभ के वापस आने के बाद ही उठेगा। वैसे सौरभ को मरीन ड्राइव पुलिस ने वीडियो कॉलिंग से उसके मां और पिता से बात कराई। बातचीत की जानकारी देते हुए उसके पिता ने बताया कि गुरुवार को अपराधियों ने सौरभ को ब्लू कलर की मारूति ओमनी से जनियामारा जंगल के पास किडनैप किया। गाड़ी में छह हथियारबंद अपराधी सवार थे। अपहरण के बाद सौरभ को बेहोश कर दिया गया। हालांकि उसे हर दो तीन घंटे में होश आ जाता था। उसे ट्रेन से सिल्ली होते हुए कोटशिला ले जाया गया। जहां से काेडरमा होते हुए मुंबई ले जाया गया। मुंबई के मरीन ड्राइव में वह अपहरणकर्ताओं को चकमा देकर भाग निकला।