• Home
  • Jharkhand News
  • Gola
  • प्रमुख ने की ध्वस्त नाली व आहर की उच्चस्तरीय जांच की मांग
--Advertisement--

प्रमुख ने की ध्वस्त नाली व आहर की उच्चस्तरीय जांच की मांग

मगनपुर| गोला प्रखंड प्रमुख जलेश्वर महतो ने प्रखंड क्षेत्र के बयांग गांव के मडुआजारा में नवनिर्मित नाली व आहर पहली...

Danik Bhaskar | Jul 01, 2018, 02:40 AM IST
मगनपुर| गोला प्रखंड प्रमुख जलेश्वर महतो ने प्रखंड क्षेत्र के बयांग गांव के मडुआजारा में नवनिर्मित नाली व आहर पहली ही बारिश में मेढ़ क्षतिग्रस्त की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है। मांग करते हुए कहा है कि निर्माण एजेंसी ने निर्माण कार्य में गुणवत्ता का ख्याल बिल्कुल न रखते हुए जैसे तैसे किया। निर्माण कार्य में संवेदक से लेकर विभाग के कर्मियों ने कार्य में लापरवाही बरती है। बताया गया कि विभाग के अभियंताओं द्वारा समय समय पर निर्माण कार्य का निरीक्षण तक नहीं किया गया। कारण बारिश के शुरूआती दौर में ही नाली ध्वस्त हो गई। विभाग की ओर से अबतक क्षतिग्रस्त योजना का निरीक्षण तक नहीं किया गया है। इससे मामले की लीपापोती की संभावना जताई जा रही है। उन्होंने निर्माण एजेंसी को जांचोपरांत काली सूची में डालने की मांग की है। घटिया निर्माण के चलते सैकड़ों किसानों के खेत में धान फसल नहीं लगाई जा सकती है। बताया जाता है कि लघु सिंचाई विभाग रामगढ़ के द्वारा उक्त स्थल पर आहर व नाली निर्माण के लिए 73 लाख रुपए की लागत से योजना की स्वीकृति दी गई थी। कार्य का जिम्मा मेसर्स अग्रवाल चापाकल रामगढ़ को सौंपा गया था।