Hindi News »Jharkhand »Gola» बलि की बात गलत, बेंच से गिरकर लगी थी बच्चे को चोट : प्रधानाध्यापक

बलि की बात गलत, बेंच से गिरकर लगी थी बच्चे को चोट : प्रधानाध्यापक

घायल छात्र का रांची के मेडिका अस्पताल में चल रहा है इलाज भास्कर न्यूज| गोला थाना क्षेत्र के बंदा स्थित बाल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 05, 2018, 02:40 AM IST

घायल छात्र का रांची के मेडिका अस्पताल में चल रहा है इलाज

भास्कर न्यूज| गोला

थाना क्षेत्र के बंदा स्थित बाल विकास केंद्र आवासीय विद्यालय में एलकेजी के छात्र नागेश्वर महतो पिता रोहित लाल महतो सरलाकला निवासी को खेल खेल में शनिवार को चोट लगी थी। बलि देने की बात बिल्कुल बेबुनियाद है। उक्त बातें विद्यालय के प्रधानाध्यापक धर्मनाथ महतो ने कही। उन्होंने बताया कि शनिवार की सुबह करीब आठ बजे सभी बच्चों को खाना खाने के लिए बुलाया गया।

इस दौरान नागेश्वर क्लास के अंदर ही बेंच के ऊपर चढ़कर खेल रहा था। इसी दौरान वह गिर गया और बेंच में लगे लोहे से उसके गर्दन में गहरी चोट लग गई। उसे आनन-फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए मेडिका रांची रेफर कर दिया गया। घटना के पांच दिन बाद बुधवार को थाना प्रभारी अब्राहम हेंब्रम जांच के लिए स्कूल पहुंचे। इस दौरान थाना प्रभारी ने बारी-बारी से स्कूल के बच्चों से घटना की जानकारी ली।

स्कूल में नहीं ंहै कोई परेशानी

विद्यालय में पढ़ रहे करीब चार सौ बच्चों से पूछताछ करने पर उन्होंने बताया कि प्रबंधन द्वारा उन्हें किसी भी तरह की प्रताड़ना नहीं दी जाती है। समय पर पढ़ाई होती है और समय पर उन्हें खाना भी मिलता है। छात्रों ने बताया कि वे दूर-दराज से आकर यहां पढ़ाई करते हैं और यहीं रहते हैं। सारी सुविधाएं उन्हें बराबर मिल रही है।

स्कूल को बदनाम करने की साजिश : प्रधानाचार्य

प्रधानाध्यापक धर्मनाथ महतो ने कहा कि बच्चे की बलि की अफवाह फैलाकर विद्यालय को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है। उन्होंने बताया कि स्कूल में पढ़ रहे बच्चों का वे अपने बच्चों से ज्यादा ख्याल रखते है। किसी भी तरह की समस्या होने पर तुरंत उसका निदान किया जाता है। अभिभावकों द्वारा अभी तक किसी भी प्रकार की शिकायत नही की गई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gola

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×