--Advertisement--

मंडा पर्व पर छऊ नृत्य की प्रस्तुति

प्रखण्ड क्षेत्र के डुण्डीगाछी में मंडा पर्व शनिवार को धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ संपन्न हो गया। इस दौरान शिव...

Danik Bhaskar | Apr 22, 2018, 07:55 AM IST
प्रखण्ड क्षेत्र के डुण्डीगाछी में मंडा पर्व शनिवार को धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ संपन्न हो गया। इस दौरान शिव भक्तों ने पांच दिनों तक निर्जला उपवास रख भगवान शिव व पार्वती की अाराधना कर सुखमय जीवन की कामना की। साथ ही समीप के तालाबों से लोटन सेवा कर मंदिर परिसर तक पहुंचे। मंदिर की परिक्रमा करने के पश्चात विधिवत पूजा अर्चना की गई।

वहीं महिलाओं ने भी दंडवत करते हुए शिवालय तक पहुंची। अहले सुबह को फुलखुंदी कार्यक्रम के तहत सभी भक्तगण नंगे पांव दहकते अंगारों पर चलते हुए भगवान भोलेनाथ के प्रति आस्था का परिचय दिया। इस अवसर पर रात्रि जागरण कार्यक्रम के तहत छऊ नृत्य का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम का उद्घाटन पूर्व बीस सूत्री अध्यक्ष सह आजसू के जिला उपाध्यक्ष दिनेश कुमार महतो ने फीता काट कर किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि मंडा पर्व शिव भक्ति का त्योहार है। इसलिए इसे पूरे विधि विधान के साथ लोगों को मानना चाहिए। ऐसे आयोजनों से लोगों में भक्ति भावना जागृत होती है।

भक्ति भावना बढ़ने से लोगों के मन में सदबुद्धि आती है। जिससे लोग ईर्ष्या द्वेष को भूल कर एक दूसरे के साथ मिल सेवा भावना से हर सामाजिक गतिविधियों में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। इसके फलस्वरूप गांव समाज के अलावा देश सहित पूरे विश्व का कल्याण होता है।

वहीं मेला लगने से लोगों का मनोरंजन तो होता ही है, साथ ही साथ एक दूसरे के साथ मिलने जुलने का मौका भी मिलता है। मौके पर मंडा कमेटी के अध्यक्ष विपिन कुमार महतो, दुलेश्वर महतो, काशीनाथ महतो, शत्रुधन महतो राजेन्द्र प्रसाद मेहता, चंद्रमोहन करमाली, पुषवा मुंडा, अरज लाल महतो, संजीव कुमार महतो, दीपक महतो, भरत करमाली, बालेश्वर महतो, काली चरण करमाली, कवि कुंवर महतो, दिलीप करमाली, उतेश्वर महतो सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे।

डुण्डीगाछी में मंडा पर्व धूमधाम से संपन्न, भक्तों ने की परिक्रमा

छऊ नृत्य प्रस्तुत करते कलाकार।