गुमला

  • Home
  • Jharkhand News
  • Gumla
  • प्रचार में धार्मिक और समुदाय की भावनाओं का ध्यान रखंे प्रत्याशी
--Advertisement--

प्रचार में धार्मिक और समुदाय की भावनाओं का ध्यान रखंे प्रत्याशी

नगर परिषद चुनाव के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं 22 वार्डों के पार्षद प्रत्याशियों के साथ शनिवार को निर्वाची...

Danik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:45 AM IST
नगर परिषद चुनाव के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं 22 वार्डों के पार्षद प्रत्याशियों के साथ शनिवार को निर्वाची पदाधिकारियों व चुनाव प्रेक्षकों ने बैठक की। ललित उरांव नगर भवन में हुई बैठक में प्रत्याशियों को सामान्य आचरण, सभा आयोजित करने, जुलूस निकालने, झारखंड नगर पालिका अधिनियम 2011, लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 व भारतीय दंड संहिता के विभिन्न धाराओं के तहत आदर्श आचार संहिता उल्लंघन मामले में दंड प्रावधान के बारे में बताया गया। उप निर्वाचन पदाधिकारी अजय तिर्की ने प्रत्याशियों को सामान्य आचरण के तहत सांप्रदायिक तनाव, धार्मिक भावना से बचने, पोस्टर-पंपलेट के मुद्रक का नाम और संख्या अनिवार्य रूप से अंकित करने को कहा।

चुनाव प्रचार की अवधि का विशेष तौर पर ध्यान रखने, निजी संपत्तियों पर प्रचार सामग्री लगाने से पूर्व मालिक से अनुमति लेने को कहा। प्रत्याशियों को निर्वाचन अभिकर्ता की सूची उपलब्ध कराने, चुनाव प्रचार के दौरान आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन करने, चुनाव खर्चाें का पंजी संधारण करने के बारे में बताया गया। प्रत्याशियों को प्रचार के दौरान किसी धर्म, जाति, समुदाय की भावना को ठेस नहीं पहुंचाने की हिदायत दी गई। धन-बल, बाहू-बल से दूर रहने की सलाह दी गई।

जुलूस व सभा करने से पूर्व मजिस्ट्रेट से अनुमति प्राप्त करने, प्रतिबंध या निषेधाज्ञा का अनुपालन करने, प्रत्याशी या राजनीतिक दलों से टकराव से बचने, उत्तेजक गतिविधियों से बाज आने, लाउडस्पीकरों के प्रयोग में सावधानी बरतने को कहा गया। इस मौके पर निर्वाची पदाधिकारी कृष्ण कन्हैया राजहंस, महेंद्र कुमार, सुमन्त तिर्की, अनूप कच्छप निर्वाची पदाधिकारी एवं संजय कुमार राव आय-व्यय प्रेक्षक प्रमुख रूप से मौजूद थे।

प्रत्याशियों को परहेज करने की हिदायत

प्रत्याशियों को बताया गया कि वे रिश्वत, प्रलोभन, धमकी या धर्म, जाति, समुदाय, भाषा और राष्ट्रीय प्रतीक के आधार पर मतदान कराने से परहेज करें। किसी के प्रति व्यक्तिगत टीका-टिप्पणी, किसी के खिलाफ झूठी जानकारी प्रकाशित करना, मतदाताओं को मतदान केंद्र तक लाने या ले जाने के लिए वाहनों का अनधिकृत प्रयोग नहीं करें। चुनाव खर्च संधारण में विफलता या किसी सरकारी कर्मचारी की मदद नहीं लेना है। प्रत्याशियों को मतदान केन्द्रों पर कब्जा करने की कोशिश करने से परहेज करने की हिदायत दी गई।

Click to listen..