गुमला

--Advertisement--

टांगी से मार युवक की हत्या कर शव कुएं में फेंका

टेना उरांव ने कहा कि बेटा इसु उरांव के साथ हुए विवाद के बाद पुनई उरांव ने प्रतिशोध में अपहरण करने के बाद पहले उसकी...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:30 PM IST
टेना उरांव ने कहा कि बेटा इसु उरांव के साथ हुए विवाद के बाद पुनई उरांव ने प्रतिशोध में अपहरण करने के बाद पहले उसकी जमकर पिटाई की है। इसके बाद अहले सुबह टांगी से गर्दन में प्रहार कर उसकी हत्या कर दी है। साक्ष्य छुपाने की नीयत से शव को गांव के सार्वजनिक कुएं में डाल दिया है। घटना को अंजाम देने में उसके साथ अन्य लोग भी शामिल होंगे। पिता ने कहा कि घटना को अंजाम देने व शव को कुएं में डालने के दौरान आरोपी ने काफी चतुराई के साथ काम किया है, चूंकि उसे पता था कि हमलोगों ने मंगलवार को कुएं में शव की तलाश की थी। इसलिए शव को उसी कुएं में डाल दिया।

सदर थाना क्षेत्र के पंसो उरांव टोली गांव में हुई घटना, ट्रैक्टर चलाता था इसु

घटना के बाद आरोपी पुनई उरांव फरार

भास्कर न्यूज|गुमला

सदर थाना क्षेत्र के पंसो उरांव टोली गांव निवासी 30 वर्षीय इसु उरांव की गला दबा कर और टांगी से मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने बुधवार को सुबह करीब 10 बजे उसका शव गांव के सार्वजनिक कुएं से बरामद किया है। इस संबंध में मृतक के पिता टेना उरांव ने गांव के ही पुनई उरांव के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई है। घटना के बाद से ही आरोपी पुनई गांव से फरार है।

प्राथमिकी में टेना उरांव ने कहा है कि उसका बेटा इसु उरांव गांव के भोपू दुबे का ट्रैक्टर चलाता था। मंगलवार को ट्रैक्टर खराब होने के कारण वह घर पर ही था। इसी दौरान गांव में खाने-पीने के दौरान दोपहर करीब 12 बजे पुनई उरांव के साथ किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इस दौरान दोनों के बीच जमकर हाथापाई भी हुई थी। मारपीट के बाद पुनई गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी देकर चला गया था। विवाद के बाद दोपहर करीब 3 बजे तक इसु गांव में ही टहल रहा था।

इसके बाद वह गायब हो गया। काफी खोजबीन के बाद भी उसका सुराग नहीं मिला। शक के आधार पर गांव के सार्वजनिक कुएं में झग्गर डाल कर उसे ढूंढा गया। लेकिन वहां भी नहीं मिला। देर रात तक उसका सुराग नहीं मिलने पर परिवार के कुछ लोग सो गए। जबकि कुछ लोग किसी अनहोनी की चिंता में जगे रहे। बुधवार को पुनः उसकी खोजबीन शुरू की गई।

इस दौरान पुनः गांव के सार्वजनिक कुएं में झग्गर डाला गया, तो इसु का शव फंस कर बाहर आया। इसके बाद पुलिस को घटना की सूचना दी गई। इसु का गर्दन पीछे से कटा हुआ था। सिर में चोट का निशान है। साथ ही उसका गला भी दबाया गया है। इस संबंध में थाना प्रभारी राकेश कुमार ने बताया कि विवाद के बाद हत्या करने की नामजद प्राथमिकी गांव के ही युवक पुनई पर दर्ज कराई गई है।

फिलहाल वह गांव से फरार है। पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है। आरोपी युवक की गिरफ्तारी के बाद ही आगे कुछ कहा जा सकता है।

पिता ने कहा, अपहरण के बाद जमकर पीटा, अहले सुबह बेटे की कर दी हत्या

X
Click to listen..