बजरंग दल ने 17 मवेशियों के साथ साढ़े पांच घंटे दिया धरना, टावर चौक भी किया जाम

Gumla News - शहर में गौशाला निर्माण की मांग को लेकर विभिन्न चौक-चौराहों से हांक कर जमा किए गए 17 मवेशियों के साथ बजरंग दल के...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:03 AM IST
Gumla News - bajrang dal gave five and a half hours picket with 17 cattle also blocked tower chowk
शहर में गौशाला निर्माण की मांग को लेकर विभिन्न चौक-चौराहों से हांक कर जमा किए गए 17 मवेशियों के साथ बजरंग दल के कार्यकर्ता शुक्रवार की सुबह आठ बजे से नगर परिषद गेट के समीप धरना पर बैठ गए। जो दोपहर 1:30 बजे तक जारी रहा। इस बीच नप के पदाधिकारियों के वार्ता के लिए नहीं आने पर गुस्साए लाेग नप गेट से टावर चौक पहुंचे और सड़क जाम कर दिया। तकरीबन एक घंटे रोड जाम करने के बाद गुमला थाना के मुंशी अरविंद राय पहुंचे और लोगों को समझाकर जाम खुलवाया। जिसके बाद वाहनों का परिचालन शुरू हुआ। बजरंग दल के संयोजक मुकेश सिंह ने बताया कि दल के समर्थन में विश्व हिंदू परिषद, दुर्गा वाहिनी समेत अन्य हिन्दू संगठन के लोग भी शामिल हुए थे।

वर्षों से गौशाला निर्माण की मांग चल रही है। लेकिन इसपर कोई पहल नहीं हुई। अाए दिन वाहनों के धक्के से मवेशी मर रहे हैं और घायल हो रहे हैं। यदि गौशाला निर्माण हो जाता, तो मवेशियों को सुरक्षित रखने में सुविधा होती। लेकिन यहां किसी को मवेशियों की परवाह नहीं है। इसलिए दल ने विभिन्न चौक-चौराहों पर घूम रहे लावारिश मवेशियों को जमा किया और नप के बाहर धरने पर बैठे। उन्होंने बताया कि गत रात्रि भी सर्किट हाउस के समीप एक मवेशी की मौत अज्ञात वाहन की चपेट में आने से हो गई है। धरना के दौरान नप के खिलाफ नारेबाजी भी की गई। 30 अगस्त को नगर परिषद को आवेदन देकर गौशाला निर्माण की मांग की गई थी। इसके बाद 3 सितंबर को भी गुमला आगमन पर सीएम को इस संबंध में ज्ञापन दिया गया था।

चौक-चौराहों से हांक कर लाए गए मवेशियों को नप परिसर में रखा गया

टावर चौक जाम कर बैठे कार्यकर्ता।

मवेशियों को रोड पर नहीं छोड़ें : गायत्री

विश्व हिंदू परिषद की गायत्री शर्मा ने बताया कि शुक्रवार को सुबह में शहर के विभिन्न चौक-चौराहों से लगभग 17 गायों को जब्त कर नगर परिषद के प्रांगण में रखा गया है। उन्होंने जिले के मवेशी पालकों से कहा कि वे अपने मवेशी को सड़क में इस प्रकार नहीं छोड़ें। यदि मवेशी को लावारिस हालत में कोई भी मवेशी पालक छोड़ते हैं, तो पालक के उपर संगठन द्वारा कार्रवाई की जाएगी।

गौशाला निर्माण के लिए डीसी से की जाएगी वार्ता : ईओ

इधर दोपहर में कार्यकर्ताओं ने ईओ हातिम ताय से मुलाकात की। ईओ ने कहा कि उपायुक्त से वार्ता कर इस विषय पर निर्णय लिया जाएगा। फिलहाल जब तक गौशाला का निर्माण नही होता है। तब तक जितने भी लावारिश मवेशी है, सभी काे नगर परिषद में ही रखा जाएगा। जब मवेशियों को किसानों के बीच वितरीत करना होगा, तो उस समय बजरंग दल के कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में मवेशी को वितरीत किया जाएगा। उन्होंने इस संबंध में आदेश भी निर्गत कर दिया। जिसमें उल्लेख है कि 22 सितंबर के बाद से लावारिश रूप से पाए जाने वाले पालतू मवेशियों के मालिकों के विरुद्ध नगरपालिका एक्ट की सुसंगत धाराओं के तहत कार्रवाई की जाएगी।

नगर परिषद के ईओ के वीडियो कॉफ्रेसिंग में जाने से बढ़ी नाराजगी

मुकेश ने कहा कि हमलोगों की मांग थी कि नप के ईओ आकर समस्याओं को समझते हुए निदान करने का प्रयास करें। परंतु कार्यपालक पदाधिकारी ने अपने कार्यालय के स्टाफ से यह कहलवा दिया कि वे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में भाग लेने के लिए गए हैं। ईओ के नहीं आने से लोगों में नाराजगी बढ़ गई और धरना के बाद सड़क जाम किया गया। इधर सड़क जाम के दौरान मुंशी अरविंद राय ने जामकर्ताओं को बताया कि बिना सूचना के सड़क जाम करना कानूनन अपराध है। आपकी बातों को वरीय अधिकारियों तक पहुंचाया जाएगा।

X
Gumla News - bajrang dal gave five and a half hours picket with 17 cattle also blocked tower chowk
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना