ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल समस्या होगी दूर, नियंत्रण कक्ष बना

Gumla News - पेयजल एवं स्वच्छता विभाग सरकार के सचिव के निर्देश पर ग्रीष्म ऋतु को देखते हुए ग्रामीण क्षेत्रों के सभी चापाकलों...

Feb 15, 2020, 07:31 AM IST

पेयजल एवं स्वच्छता विभाग सरकार के सचिव के निर्देश पर ग्रीष्म ऋतु को देखते हुए ग्रामीण क्षेत्रों के सभी चापाकलों को व्यवस्थित करने के लिए जिला पेयजल एवं स्वच्छता प्रमण्डल की ओर से जिला स्तर पर नियंत्रण कक्ष का गठन किया गया। पेयजल से जुड़ी सभी समस्याओं के निराकरण के लिए कई पदाधिकारी एवं कर्मचारियों की प्रतिनियुक्ति की गई। इसमें कनीय अभियंता सह नोडल पदाधिकारी वीरेंद्र कुमार सिंह, उच्चवर्गीय लिपिक सह सदस्य शंभूनाथ तिवारी, निम्न वर्गीय लिपिक सह सदस्य प्रकाश केरकेट्टा शामिल हैं। जिला नियंत्रण कक्ष में पेयजल संबंधी विविध शिकायतों को दर्ज कराते समय शिकायतकर्ता अपना पूरा नाम (प्रखंड, पंचायत, ग्राम, टोला, स्थान) के साथ शिकायत के प्रकार की जानकारी जरूर देंगे। दर्ज शिकायतों के निराकरण के लिए त्वरित कार्रवाई की जाएगी। साथ ही प्रखंडवार कनीय अभियंता, सहायक अभियंता को नोडल पदाधिकारी नामित किया गया है। लोहरदगा के नोडल पदाधिकारी के रूप में कनीय अभियंता कमल नाथ मुण्डा का मोबाइल नंबर 09470305344, भंडरा में कनीय अभियंता वीरेंद्र कुमार सिंह 07781975710, सेन्हा में कनीय अभियंता लक्खी राम मांझी 09431726735, कुडू में कनीय अभियंता सुमन राज खलखो 09431355890, किस्को में कनीय अभियंता पंकज कुमार पिंगुआ 09771320657, कैरो में कनीय अभियंता सुमन राज खलखो 09431355890, पेशरार में सहायक अभियंता राजकुमार 08797237711 को प्रतिनियुक्त किया गया है। इसके अलावे विभागीय टॉल फ्री 18003456502 एवं मोबाइल नंबर 09470176901 पर भी सम्पर्क कर पेयजल से संबंधी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना