बख्तर साय मुंडल सिंह के बताए राह पर चलें

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बोलबा | प्रखंड मुख्यालय स्थित बख्तर साय मुंडल सिंह स्मृति भवन में शहादत दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शहीद बख्तर साय और मुंडल सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित कर उनके व्यक्तित्व और कार्यों के बारे चर्चा की गई। वक्ताअों ने कहा कि आज के दौर में उनके दिखाए राह पर चलने की आवश्यकता है। रौतिया समाज की ओर से आयोजित कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष रोहित सिंह और उपमुखिया अजय जायसवाल ने शहीदों की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया। गांव के पाहन और पुजारियों ने ग्राम देवता की पूजा और शहीदों को नमन कर कार्यक्रम की शुरुआत की। मुख्य अतिथि ने कहा कि रौतिया समाज की समृद्ध संस्कृति और परंपराएं हैं लेकिन कुछ कमियाें और कुरीतियों के कारण समाज आगे नहीं बढ़ पा रहा है।

उन्होंने कहा कि अमर शहीदों ने स्वतंत्रता और अस्मिता का जो दीप जलाया था उसे ज्वलित रखना है। उपमुखिया ने कहा कि झारखंड में नशा और अशिक्षा विकास की राह में बाधक है। हर समाज को चाहिए कि वह शिक्षा को अपनाए और नशे से दूर रहे। इस अवसर पर पैंकी नृत्य का विशेष आकर्षण रहा। झूमर और डमकच नृत्य का भी लोगों ने काफी आनंद लिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता रामजतन सिंह ने की।

खबरें और भी हैं...