घाघरा और बिशुनपुर के आंगनबाड़ी केंद्र को बनाएं मॉडल : उपायुक्त

Gumla News - उपायुक्त शशिरंजन ने डीएमएफटी की बैठक में सीएसआर मद से खनन क्षेत्र घाघरा एवं बिशुनपुर में बच्चों के पोषण,...

Sep 14, 2019, 07:01 AM IST
Gumla News - model the anganwadi center of ghaghra and bishunpur model deputy commissioner
उपायुक्त शशिरंजन ने डीएमएफटी की बैठक में सीएसआर मद से खनन क्षेत्र घाघरा एवं बिशुनपुर में बच्चों के पोषण, स्वास्थ्य एवं शिक्षा को केंद्र में रखकर योजना क्रियान्वित करने पर बल दिया है। अपने चेंबर में आयोजित बैठक में डीसी ने सीएसआरएफ से बिशुनपुर एवं घाघरा में विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं सर्जन और ए ग्रेड नर्सो की नियुक्ति करने के साथ मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र बनाने का निर्देश दिया। जहां आंगनबाड़ी केंद्रों को प्ले स्कूल की तर्ज पर सुविधाएं बच्चों को दी जाएगी। उन्होंने डीएमएफटी के तहत संचालित 9512 योजनाओं की प्रगति की भी समीक्षा की। नए विशेषज्ञ चिकित्सकों को मानदेय के अलावा सीएसआर मद से 50 प्रतिशत बोनस भी देने का निर्णय लिया गया ताकि उस क्षेत्र के लोगों को चिकित्सा की बेहतर सुविधा उपलब्ध हो सके। उपायुक्त ने घाघरा एवं बिशुनपुर में निजी अस्तपताल के तर्ज पर मेटरनिटी रूम एवं वार्ड बनाने के लिए प्राक्कलन बनवाने का निर्देश दिया। घाघरा सीएचसी में डेंटल सर्जन के लिए डेंटल चेयर, ओटी लाईट एवं डेंटल उपकरण उपलब्ध कराया जाएगा। उसी प्रकार उस क्षेत्र के स्कूलों में भी पेयजल, किचनशेड जैसी बुनियादी सुविधाओं के अलावा जर्जर स्कूल भवन की मरम्मत भी कराई जाएगी। उल्लेखनीय है कि जिले में खनन क्षेत्र में पड़नेवाले घाघरा प्रखंड के 11 बिशुनपुर के 34 और चैनपुर के पांच गांवों का चयन किया गया है। उन क्षेत्रों में चिह्नित 27 खनन क्षेत्र में आठ पर हिंडाल्को द्वारा बॉक्साइट का खनिज का खनन किया जाता है। जिससे करीब 49000 की आबादी प्रभावित है। उन क्षेत्रों में करीब 48 करोड़ रुपए की योजना पांच वर्ष में क्रियान्वित की जाएगी। चयनित गांवों में पेयजल की सुविधा, सोलर लाईट, स्वास्थ्य केंद्रों में आधुनिक सुविधाएं सीएसआरएफ से उपलब्ध कराया जाएगा।

अधिकारियों के साथ बैठक करते उपायुक्त।

X
Gumla News - model the anganwadi center of ghaghra and bishunpur model deputy commissioner
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना