बिजली और पानी नहीं, कंप्यूटर की पढ़ाई से छात्राएं वंचित, शौचालय का भी इस्तेमाल नहीं

Gumla News - केंद्र और राज्य सरकार बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाऐं चला रही है। लेकिन अधिकारियों की उदासीनता से...

Dec 11, 2019, 10:11 AM IST
Simdega News - no electricity and no water girl students deprived of studying no use of toilets
केंद्र और राज्य सरकार बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाऐं चला रही है। लेकिन अधिकारियों की उदासीनता से बच्चों को समुचित लाभ नहीं मिल रहा है। कामडारा में खूंटी-सिमडेगा मुख्य पथ से सटा प्रोजेक्ट बालिका हाई स्कूल पांच एकड़ दो डिसमील जमीन पर फैला है। वर्ष 1983 में स्थापित इस स्कूल की चहारदीवारी चारों ओर से टूट कर गिर रही है। इससे छात्राएं अपने को असुरक्षित महसूस करती हैं। स्कूल परिसर के अंदर चारों तरफ झाड़ियां उग आयी है। जिससे छात्राओं को सांप-बिच्छू का भय बना रहता है। विद्यालय परिसर के अंदर पेयजल के लिए चापाकल तक नहीं है। बच्चियां घर से पानी लेकर आती हैं। पानी के अभाव में शौचालय का उपयोग नहीं होता है। विद्यालय में बिजली कनेक्शन भी नही आया है जिससे कंप्यूटर की पढ़ाई भी नही होती है। इस स्कूल में वर्ग छह से लेकर मैट्रिक तक की पढ़ाई होती है और 54 छात्राएं नामांकित हैं। छात्राओं को पढ़ाने के लिए वेतनभोगी दो सरकारी शिक्षक कुमुद रंजन गुप्ता व बहालेन सुरीन तथा तीन अवैतनिक शिक्षक राजन कुमार साहू, आरती कुमारी और ब्रजनाथ साहू हैं। प्रधानाध्यापिका बहालेन सुरीन छात्राओं के अभिवावकों के साथ बैठक कर छात्राओं को और बेहतर शिक्षा देने का प्रयास करती हैं। स्कूल में एक लिपिक भारती कुमारी व आदेशपालिका मालावती नाग पदस्थापित हैं, लेकिन उन्हें काफी दिनों से वेतन नही मिला है।

नए भवन में नहीं लगे हैं दरवाजे और खिड़की।

बालिका विद्यालय में कंप्यूटर लैब व आर्ट क्राफ्ट रूम में ली जाती है कक्षा

प्रोजेक्ट बालिका विद्यालय कामडारा में कमरों के अभाव में स्कूली बच्चियों की पढ़ाई-लिखाई फिलहाल कंप्यूटर लैब व आर्ट क्राफ्ट रूम में होता है। हालांकि विद्यालय परिसर के अंदर अतिरिक्त तीन स्थानों पर भी अलग-अलग कमरा बना हुआ है परंतु उक्त सभी भवन जर्जर स्थिति में है जो कभी भी गिर सकते हैं। इसके अलावा हाल के दिनों में भी शौचालय युक्त चार कमरों का मवन बना है जिसमें अब तक दरवाजा, खिड़की नही लगे हैं।

वरीय अधिकारियों को अवगत करा दिया गया : एचएम बहालेन सुरीन

विद्यालय की एचएम बहालेन सुरीन ने कहा कि विद्यालय की यथास्थिति व समस्याओं के बारे में विभाग के वरीय अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। वहीं स्कूल की छात्राओं को गुणवक्तापूर्ण शिक्षा देने का प्रयास किया जा रहा है। चूंकि आज के दौर मे लड़कियों को शिक्षित होना काफी जरुरी है। तभी वह अपनी मान- सम्मान की रक्षा व सबल बन सकती हैं।

बहालेन सुरीन।

Simdega News - no electricity and no water girl students deprived of studying no use of toilets
X
Simdega News - no electricity and no water girl students deprived of studying no use of toilets
Simdega News - no electricity and no water girl students deprived of studying no use of toilets
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना