“रात्रि” शब्द हर 24 घंटे में आने वाले अंधकारमय काल नहीं है : शांति दीदी

Gumla News - प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के गुमला सेवा केंद्र द्वारा महाशिवरात्रि के पाक्षिक...

Feb 21, 2020, 07:00 AM IST
Gumla News - the word quotnightquot is not a dark period that comes every 24 hours shanti didi

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के गुमला सेवा केंद्र द्वारा महाशिवरात्रि के पाक्षिक कार्यक्रम के तहत 84 त्रिमूर्ति शिव जयंती महोत्सव का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत में लोहरदगा के सांसद सुदर्शन भगत, फादर अनुरंजन पूर्ति, वार्ड पार्षद नूतन रानी एवं शिक्षिका हिना सिंह, सैनिक कल्याण संघ के अध्यक्ष सहदेव महतो का तिलक, पुष्पगुच्छ एवं बैच के द्वारा स्वागत एवं अभिनंदन किया गया। तत्पश्चात अतिथियों के आगमन की बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए ब्रह्माकुमारी मंजू बहन ने स्वागत उद्बोधन किया एवं संस्थान का संक्षिप्त परिचय दी।

गुमला सेवा केंद्र की संचालिका ब्रह्माकुमारी शांति दीदी ने महाशिवरात्रि के रहस्य को स्पष्ट करते हुए कहा कि वास्तव में “रात्रि” शब्द हर 24 घंटे में एक बार आने वाले अंधकारमय काल भाग का नाम नहीं है। बल्कि यह शब्द यहां एक अलंकार के रूप में प्रयोग किया गया है। सांसद सुदर्शन भगत ने शिव जयंती महोत्सव की बधाई देते हुए कहा कि परमात्मा एक है। हम सब उसके संतान है, इस नाते आपस में भाई-भाई हैं। इस पर्व को सार्थक करने के लिए हमें अपने अंदर की बुराइयों को समाप्त करना है और दैवी गुणों को धारण करना है।

एराउज के फादर अनुरंजन पूर्ति ने कहा कि भारत में कई धर्मों का समावेश है। इसलिए भारत देश महान है। माैके पर सैकड़ों की संख्या में उपस्थित नगरवासियों को ईश्वरीय प्रसाद बांटा गया। तत्पश्चात सेवा स्थान के सम्मुख शिव ध्वजारोहण कर बुराइयों से दूर रहने एवं श्रेष्ठ कर्म करने हेतु प्रतिज्ञा ली गई।

संबोधित करते सांसद सुर्दशन भगत व अन्य।

X
Gumla News - the word quotnightquot is not a dark period that comes every 24 hours shanti didi

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना