• Home
  • Jharkhand News
  • Haidarnagar
  • शौचालय निर्माण में गति को लेकर राजमिस्त्री का दो दिवसीय प्रशिक्षण शुरू
--Advertisement--

शौचालय निर्माण में गति को लेकर राजमिस्त्री का दो दिवसीय प्रशिक्षण शुरू

स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण में गति लाने को लेकर प्रखंड सभागार में कुशल मजदूरों को राजमिस्त्री के दो...

Danik Bhaskar | Mar 07, 2018, 02:45 AM IST
स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण में गति लाने को लेकर प्रखंड सभागार में कुशल मजदूरों को राजमिस्त्री के दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया गया है। बीडीओ शैलेन्द्र कुमार रजक ने प्रशिक्षण कार्यक्रम में कहा कि इस प्रखंड को खुले में शौच मुक्त बनाने को लेकर निर्धारित लक्ष्य के तहत शौचालय का निर्माण किया जाना है। पर जरूरत के अनुरूप राजमिस्त्रियों के अभाव में शौचालय निर्माण को गति नहीं मिल पाई है।

इसके लिए कुशल मजदूरों को राजमिस्त्री के कार्य करने के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इस प्रशिक्षण में स्वच्छ भारत अभियान के तहत वैज्ञानिक ढंग से शौचालय का निर्माण को लेकर तकनीकी व व्यवहारिक पहलूओं की जानकारी लेना राजमिस्त्रियों के लिए आवश्यक होगा। शौचालय का निर्माण में गोलाकार व जालीदार सोख्ता का निर्माण जरुरी है। सोख्ता में जमा अवशिष्ट बाद में उर्वरक के रुप में प्रयोग किये जा सकेंगे। इस तकनीक के अनुरूप शौचालय का निर्माण नहीं कराए जाने से इसके उद्देश्य के तहत वह लाभदायक नहीं होंगे। छत का निर्माण कर्कट नहीं बल्कि ढलाई वाला बनाया जाना है। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण कोरम पूरा करने के लिए नहीं, बल्कि इसमें मिली जानकारी को धरातल पर उतारना ही स्वच्छ भारत अभियान की सफलता होगी।

कार्यक्रम में डीआरडीए के एपीओ सुधीर कुमार, मनरेगा बीपीओ आशीष कुमार, एसबीएम के बीसीओ जयकृष्ण व एसएम प्रीति कुमारी ने प्रशिक्षण के तहत विभिन्न बिंदुओं पर प्रकाश डाला। जबकि जिला प्रशिक्षण नफीस अंसारी ने प्रोजेक्टर के माध्यम से शौचालय निर्माण की तकनीकी जानकारी व दूरगामी लाभ को प्रदर्शित किया।

हैदरनगर में राजमिस्त्रियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल बीडीओ व अन्य।