Hindi News »Jharkhand »Haidarnagar» प्रखंड को ओडीएफ बनाने के लक्ष्य को समय से पूरा कराएं जलसहिया

प्रखंड को ओडीएफ बनाने के लक्ष्य को समय से पूरा कराएं जलसहिया

स्वच्छ भारत अभियान के तहत पंचायतों में लक्ष्य के विरुद्ध शौचालय निर्माण में गति लाने को लेकर प्रखंड सभागार में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 10, 2018, 02:50 AM IST

स्वच्छ भारत अभियान के तहत पंचायतों में लक्ष्य के विरुद्ध शौचालय निर्माण में गति लाने को लेकर प्रखंड सभागार में आयोजित साप्ताहिक समीक्षा बैठक में मुखिया व जलसहिया को हिदायत दी गई। साथ ही कुशल मजदूरों को राजमिस्त्री का प्रशिक्षण भी दिया गया। इसमें संड़ेंया, बिलासपुर, चौकड़ी, मोकहर कला, बभंडी सहित अन्य पंचायतों के जलसहिया विभा, संजू, मीना, शकुंतला, रेखा, रिंकी, मुन्नी, रीता देवी, शबाना परवीन के अलावा कुशल मजदूर, प्रभु, रामप्रसाद, अवध, भीम राम, विजय विश्वकर्मा, इंद्रदेव व जयराम राजवंशी सहित अन्य कई शामिल थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता बीडीओ शैलेन्द्र कुमार रजक ने की। उन्होंने मुखिया व जलसहिया को उनके पंचायतों में निर्धारित लक्ष्य के विरुद्ध शौचालय का निर्माण पूरा कराकर इस प्रखंड को ससमय ओडीएफ बनाने में सकारात्मक भूमिका निभाने को कहा।

उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत व ग्राम जल स्वच्छता समिति के माध्यम से शौचालय निर्माण के लिए जरुरी सामग्रियों को लेकर उन्हें भटकना नहीं पड़ेगा। इसकी सुविधा प्रखंड परिसर में ही सेनेटरी मार्ट खेलने से उपलब्ध हो गई है। उन्होंने उन्हें राजमिस्त्री का प्रशिक्षण प्राप्त कुशल मजदूरों से निर्धारित लक्ष्य के विरुद्ध प्रति सप्ताह शौचालय का निर्माण पूरा कराने पर बल दिया। इस मौके पर बीसीओ जयकृष्ण व एसएम प्रीति कुमारी ने पंचायतवार शौचालय निर्माण की प्रगति की समीक्षा करते हुए कार्यक्रम में मौजूद कुशल मजदूरों को वैज्ञानिक ढंग से शौचालय निर्माण की तकनीकी जानकारी प्रोजेक्टर के माध्यम से दी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haidarnagar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: प्रखंड को ओडीएफ बनाने के लक्ष्य को समय से पूरा कराएं जलसहिया
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Haidarnagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×