• Home
  • Jharkhand News
  • Haidarnagar
  • स्वच्छता के साथ खेतों के लिए खाद की भी हो व्यवस्था
--Advertisement--

स्वच्छता के साथ खेतों के लिए खाद की भी हो व्यवस्था

एसबीएम ग्रामीण के तहत परता ग्राम पंचायत के कबरा कलां में पंचायत प्रतिनिधियों व ग्रामीणों के साथ एसबीएम के...

Danik Bhaskar | May 30, 2018, 02:35 AM IST
एसबीएम ग्रामीण के तहत परता ग्राम पंचायत के कबरा कलां में पंचायत प्रतिनिधियों व ग्रामीणों के साथ एसबीएम के पदाधिकारियों ने बैठक की। मोबलाइजर प्रीति कुमारी ने लोगों को बताया कि खुले में शौच जाने से अनेक बीमारियों के साथ-साथ कई परेशानियां भी हैं।

उन्होंने कहा कि खासकर बच्चियों व महिलाओं की सुरक्षा से भी जुड़ा मामला है। उन्होंने ग्रामीणों को शौचालय निर्माण कराने व उसे इस्तेमाल करने का आह्वान किया। उन्होंने शौचालय निर्माण दो गड्ढों वाला बनाने की बात कही। उन्होंने बताया कि दो गड्ढों के शौचालय से उन्हें अन्य कई फायदे भी मिलेंगे। दो गड्ढों में एक गड्ढा भरने में पांच वर्ष का समय लगता है। उसे उसी तरह छोड़कर दूसरे गड्ढे का इस्तेमाल किया जाता है। पहला गड्ढा एक वर्ष के बाद खाद बन जाता है। जिससे खेती बाड़ी में उपयोग किया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि यह प्रक्रिया निरंतर चलती रहती है। इसलिए स्वच्छता के साथ साथ मुफ्त में खाद भी मिल जाता है। मुखिया रंजू देवी ने कहा कि वह पंचायत समिति सदस्यों के अलावा सभी वार्ड सदस्यों की मदद से पंचायत के सभी टोले में बैठक कर ग्रामीणों को शौचालय निर्माण कराने व इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित कर रही हैं। पंसस रामप्रवेश सिंह ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन अब अभियान का रुप ले चुका है। ग्रामीणों में जागरुकता आई है। उन्होंने ग्रामीणों का आह्वान किया कि वह इसे चुनौती के रूप में लेकर जितना जल्दी संभव हो अपने अपने घरों में शौचालय निर्माण कराएं। उन्होंने बताया कि अगर कहीं परेशानी होती है, तो वह मुखिया या उनसे संपर्क करें। बैठक में पंचायत सेवक महेंद्र सिंह, रोजगार सेवक अजित गुप्ता के अलावा समाजसेवी दिनेश पासवान आदि उपस्थित थे।

हैदरनगर में मुखिया, पंसस और ग्रामीण।