हैदरनगर

--Advertisement--

शबे बारात इबादत की रात

हैदरनगर | अनुमंडल प्रखंड में शबे बारात का त्योहार एक मई 2018 को मनाया जाएगा। बड़ी मस्जिद के पेशइमाम मौलाना अहमद अली...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 02:45 AM IST
हैदरनगर | अनुमंडल प्रखंड में शबे बारात का त्योहार एक मई 2018 को मनाया जाएगा। बड़ी मस्जिद के पेशइमाम मौलाना अहमद अली खां ने पत्रकारों को बताया कि वह इस संबंध में जुमा की नमाज के पहले भी घोषणा कर चुके हैं। शबे बारात इबादत की रात है। इस त्योहार में बम पटाखा आदि आतिशबाजी करने की परंपरा चली आ रही है। जो धार्मिक दृष्टि से सरासर गलत है। उन्होंने बताया कि इबादत की रात में आतिशबाजी करना खुद को गुनाह की तरफ ढकेलने जैसा है। शबे बारात की रात अल्लाह रहमत के दरवाजे खोलता है। इस दिन इबादत के दौरान जो भी दुआ मांगी जाएगी वह पूरी होती है। उन्होंने समाजजनों से शबे बारात की रात इबादत करने व उसकी सुबह रोजा रखने की हिदायत की है। उन्होंने बताया कि हजरम मोहम्मद स फरमाते हैं कि जो शख्स शाबान की 15 तारीख को रोजा रखेगा, उसे जहन्नुम की आग नहीं छुयेगी। उन्होंने बताया कि शबे बारात की रात खुदा की इबादत का हुक्म है। उन्होंने बताया कि आतिशबाजी से दीन और दुनिया दोनों जगह घाटा है। आतिशबाजी से हवा व आवाज का प्रदुषण होता है। जो इंसान के लिए बहुत हानिकारक है। उन्होंने आम लोगों से त्योहार को सही ढंग से मनाने व अधिक से अधिक इबादत करने का आह्वान किया है

X
Click to listen..