• Home
  • Jharkhand News
  • Hatgamharia
  • सांप डंसा तो किया झाड़ फूंक 20 घंटे बाद लाए अस्पताल
--Advertisement--

सांप डंसा तो किया झाड़ फूंक 20 घंटे बाद लाए अस्पताल

जिला प्रशासन द्वारा जिला के ग्रामीण इलाकों में अंधविश्वास से छुटकारा दिलाने के लिए लाख प्रयास के बावजूद...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:35 AM IST
जिला प्रशासन द्वारा जिला के ग्रामीण इलाकों में अंधविश्वास से छुटकारा दिलाने के लिए लाख प्रयास के बावजूद ग्रामीणों में अब भी जागरुकता की काफी कमी है। एक ऐसा ही मामला प्रकाश में आया है। हाटगम्हरिया थाना अंतर्गत सिंद्रीगौरी गांव के 25 वर्षीया जेमा बिरुवा को घर में ही लकड़ी निकालने के क्रम में सांप ने डंस लिया। परिजन उसे 20 घंटे के बाद अस्पताल ले गए, लेकिन तब तक उसकी स्थिति काफी नाजुक हो गई थी। बताया जाता है कि जेमा रात के 9 बजे लकड़ी के ढेर से लकड़ी निकालने गई थी। उसी दौरान सांप ने उसे डंस लिया। जेमा ने अपने बड़े भाई कोलाय बिरूवा को इसकी जानकारी दी। कोलाय ने जेमा के जहर फैलने से रोकने के लिए हाथ में कपड़ा से बांध दिया। उसके बाद कोलाय जेमा को अस्पताल ना ले जा कर घर में ही पुजारी बुलाकर झाड़ फूंक करवाता रहा। रातभर झाड़फूंक करवाने के बाद भी तबियत में सुधार नहीं आई। जेमा का हाथ फूलकर काला पड़ने लगा और दर्द भी बढ़ता जा रहा था। लगभग 20 घंटे बाद जेमा को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कुमारडुंगी लाया गया। यहां लाने के बाद महिला की हालत काफी नाजुक हो गई। स्थिति गंभीर देखते हुए जमशेदपुर रेफर किया गया है।