आधुनिक संसाधन से लैस हो रहा सदर अस्पताल, परिसर में चार सोलर मास्क व 20 स्ट्रीट लाइट लगाने के लिए सर्वे शुरू

Hazaribagh News - हजारीबाग प्रमंडलीय सदर अस्पताल को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अपग्रेड करने के काम में काफी तेजी आ गयी है। दो दिनों के...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:45 AM IST
Hazaribagh News - surveys to be started in sadar hospital four solar masks and 20 street lights being equipped with modern resources
हजारीबाग प्रमंडलीय सदर अस्पताल को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अपग्रेड करने के काम में काफी तेजी आ गयी है। दो दिनों के भीतर अस्पताल में कई अच्छे कार्य हुए हैं। उपायुक्त रविशंकर शुक्ला के द्वारा गठित कोर कमिटी डीडीसी विजया जाधव के नेतृत्व में इस काम को अंजाम तक पहुंचाने में जुटी है। इसके तहत जहां सदर अस्पताल के ओटी में लगा अंग्रेजों के जमाने का जर्जर सिलिंग लैंप से काम चल रहा था। रस्सी से बांध कर इसे स्थिर रखा जाता था वही सोमवार को एक साथ तीन ऑपरेशन थिएटरों में आधुनिक सिलिंग लैंप लगाया गया। यहां तक कि ट्रामा सेंटर का ओटी भी सिलिंग लैंप से लैस हो गया।

इधर रीजनल बिल्डिंग में संचालित एसएनसीयू की क्षमता को दो गुणा कर दिया गया। पहले आठ वार्मर यहां लगे थे। एक साथ आठ नवजात बच्चों को हेल्थ रिकवर के लिए रखा जा सकता था। आठ नए वार्मर और लगा दिए गए। अब एक साथ 16 नवजात को एसएनसीयू में रखा जा सकेगा। इधर परिसर की खूबसूरती को बढाने की पहल भी शुरू कर दी गई है। अब अस्पताल बिजली के भरोसे नहीं होगा। सोलर पैनल की क्षमता को बढ़ाया जा रहा है साथ हीं चार सोलर हाई मास्क लाइट और 20 स्ट्रीट सोलर लाईट लगाए जा रहे हैं। जिसका सर्वे सोमवार से तकनीकी एक्सपर्ट ने शुरू कर दिया है। इस बदलाव का मॉनिटरिंग डीडीसी खुद कर रही हैं। यहां तक कि मुख्य गेट से रीजनल बिल्डिंग तक जाने वाले रास्ते को चौड़ा करने के लिए बीच में गड़े पुराने दो बिजली के पोल को हटाने के लिए डीडीसी ने बिजली विभाग को कहा है वहीं ट्रामा सेंटर के ऊपर से गुजरा ओवरहेड बिजली तार को हटाकर किनारे कराने के लिए पहल शुरू कर दी गई है।

कहां कहां लगेंगे स्ट्रीट एवं हाई मास्क सोलर लाइट

कोर कमेटी के एसीएमओ डॉ. मेजर पीके सिन्हा, डीएस डाॅ. विजय शंकर एवं डाॅ. प्रवीण नाथ की मौजूदगी में तकनीकी एक्सपर्ट ने सर्वे किया। जिसमें हाई मास्क सोलर लाइट चार जगह लगाने के लिए चयन किया गया। एक गेट से प्रवेश करते हीं ओपीडी के सामने, दूसरा ट्रामा सेंटर व पोस्टमार्टम हाउस के बीच, तीसरा मेल वार्ड व दूसरे प्रवेश गेट के बीच और चौथा लाईट फिमेल वार्ड के सामने लगेगा। जबकि स्ट्रीट सोलर लाइट अस्पताल परिसर में गुजरे सारे रूट के किनारे लगाया जाएगा। जो 20 लाइट से पूरा हो जाएगा। इसके लग जाने से बिजली कटने के बाद भी अस्पताल परिसर रोशनी से चकाचौंध रहेगा। वहीं सोलर लाईट सारे वार्ड और सभी ओटी से कनेक्ट होगा। अब भर्ती मरीजों को भी बिजली कटने पर अंधेरे से मुक्ति मिलेगी और ऑपरेशन भी रोशनी के अभाव में बाधित नही होगा।

एक जर्जर सिलिंग लैंप से हो रहा था गुजारा अब तीन लैंप से अस्पताल हुआ लैस

हजारीबाग प्रमंडलीय सदर अस्पताल कल तक विजन के अभाव में कई तकनीकी कमी का दंश झेल रहा था। उपायुक्त ने इसे बेहतर करने का ठाना और डीडीसी को इसकी जिम्मेदारी सौंपी तो हर रोज हाई विजन के साथ बदलाव का प्लानिंग तैयार हो रहा है और उस पर त्वरित इम्प्लीमेंट भी हो रहा है। मात्र एक जर्जर ओटी सिलिंग लैंप से यहां गुजारा हो रहा था। सामग्री खरीदने का दौर लगातार जारी रहा पर एक लैंप खरीदने की सोच नही बन पाई थी। आज ट्रामा सेंटर तक ओटी सिलिंग लैंप से लैस हो गया। अब मरीज जिस विभाग में होगा या ट्रामा सेंटर पहुंचेगा तो उसे उसी विभाग में ओटी उपलब्ध होगा। इसके अलावा झारखंड का पहला रेडियो विडियो ग्राफी (आरवीजी एक्सरे) मशीन हजारीबाग सदर अस्पताल में इंस्टाल हुआ। वहीं उच्च कोटी केदो डेंटल चेयर से दंत रोग विभाग को लैस किया गया।

डीडीसी विजया जाधव ने कहा कि अभी बदलाव शुरू हुआ है इसे अपग्रेड किया जा रहा है। इस अस्पताल को उस लेबल तक ले जाना है जब लोगों को सभी तरह का इलाज यहीं उपलब्ध हो। किसी भी तरह की जांच व एक्सरे के लिए बाहर नहीं जाना पड़े। हम इसी कमिटमेंट के तहत काम कर रहे हैं। मुलभूत सुविधा से लेकर आधुनिक संसाधनों से अस्पताल को लैस करना हमारा मकसद है।

X
Hazaribagh News - surveys to be started in sadar hospital four solar masks and 20 street lights being equipped with modern resources
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना