अास्था का केंद्र कंडाबेर माता स्थान जाने का मार्ग हुआ जर्जर

Hazaribagh News - कर्णपुरा क्षेत्र के पिछले कई वर्षों से आस्था के केंद्र मां अष्टभुजी मंदिर तक पहुंचने का रास्ता अत्यंत जर्जर हाे...

Jun 15, 2019, 06:10 AM IST
कर्णपुरा क्षेत्र के पिछले कई वर्षों से आस्था के केंद्र मां अष्टभुजी मंदिर तक पहुंचने का रास्ता अत्यंत जर्जर हाे गया है। इसी कारण यहां श्रद्धालुओं का पहुंचना काफी कम हो गया है। यह मंदिर केरेडारी के कंडाबेर पंचायत में स्थित है।

बड़कागांव-केरेडारी मुख्य मार्ग पर गर्रीकला मोड़ से कंडाबेर माता स्थान की दूरी लगभग 6 किलोमीटर है। खराब रास्ता हाेने की वजह से 6 किलोमीटर की दूरी तय करने में श्रद्धालुओं के पसीने छूट रहे हैं। नतीजा मां के दर्शन व पूजा करने वालों की संख्या लगातार घटती जा रही है। इस मार्ग की पांच साल पहले मरम्मत की गई थी। अभी वर्तमान में इस मार्ग पर पैदल चलना भी मुश्किल है। माता के दरबार मे बड़कागांव, केरेडारी, टंडवा, हज़ारीबाग, पतरातू आदि जगहों से श्रद्धालु मुंडन, शादी, मन्नत रखने यहां पहुंचते है। मन्दिर के पुजारी उमेश पाठक कहते हैं कि यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए अच्छी सड़क नहीं है।

जिससे लगातार श्रद्धालुओं की संख्या घटती जा रही है, जबकि इस मंदिर पर दर्जनों पुजारी आश्रित हैं, जिन्हें पेट चलाना भी मुश्किल हो गया है। ज्ञात हो कि इस माता स्थान के सुंदरीकरण व पर्यटक स्थल घोषित करने के लिए पूर्व विधायक योगेंद्र साव द्वारा विधान सभा में मांग उठाया गया था। जिस पर स्वीकृति भी मिली थी परंतु मामला कहां लटक गया, विधायक तक को इसकी सूचना नही है।

माता स्थान कंडाबेर जाने का उबड़-खाबड़ रास्ता।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना