कुम्हरैया डैम से केरेडारी के दो गांवों में खुशहाली, सालों भर हाेती है खेती

Hazaribagh News - केरेडारी प्रखण्ड के कुम्हरैया डैम से दो गांवोेें में सिंचाई होती है। जिससे सलगा एवं कुठान गांव के किसान हमेशा खुश...

Nov 11, 2019, 06:45 AM IST
केरेडारी प्रखण्ड के कुम्हरैया डैम से दो गांवोेें में सिंचाई होती है। जिससे सलगा एवं कुठान गांव के किसान हमेशा खुश रहते है। इन गांवों के लोग मानसून पर आश्रित नहीं रहते है। जब भी रवि एवं खरीफ फसल में सिंचाई की जरूरत पड़ती है तब डैम के फाटक खोल देते हैं एवं आसानी से सिंचाई कर लेते है। इन गांवों में सालों भर फसलें लहलहाती रहती है। इन गांवों के लोग फसल बेचकर ही आर्थिक उपार्जन करते हैं। साथ ही सभी तरह के कार्यक्रमो का आयोजन फसलों को बेच कर ही करते है। यहाँ के लोग आर्थिक रूप से काफी सम्पन्न भी हो चुके है। यह डैम केरेडारी प्रखण्ड मुख्यालय से 03 किलोमीटर दक्षिण की ओर अवस्थित है। जो की सलगा पंचायत में पड़ता है।

1966-67 में बना था डैम : जानकारी बताते हैं कि 1966-67 में डैम बना था। जिसमे पानी निकास के लिए दो निकास द्वार है। लेकिन दोनों दोनों फाटक जर्जर होने के कारण पानी का रिसाव हमेशा होता रहता है। 2017-018 वित्त वर्ष में 14 वें वित्त आयोग से 83 हजार 900 की प्राक्कलित राशि से निर्मित दोनों कुओं का जीर्णोद्धार किया जा चुका है। लेकिन गुणवत्तापूर्ण कार्य नहीं करवाया गया है। जिसके कारण दोनों फाटक से पानी का रिसाव होता रहता है। इस संबंध में गांव के हेमराज महतो, खेमन महतो, भगवान पांडेय, घनश्याम महतो, इंदर महतो, परमेश्वर महतो, चेतलाल महतो, टुकन महतो, तालेश्वर महतो समेत दर्जनों किसानों ने बताया कि हमलोग कृषि कार्य से काफी खुश हैं। फसलों से ही आर्थिक उपार्जन करते है। कृषकों ने बताया कि हमलोग स्थानीय बाजार केरेडारी, टण्डवा, बड़कागांव में साग सब्जियों को बेचते है। जब सब्जियां अधिक उत्पादन होता है तब रांची एवं हजारीबाग का व्यापारी ट्रक से सब्जियां एवं अन्य फसल ले जाते है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना