• Home
  • Jharkhand News
  • Jagannathpur
  • बांस लदे ट्रैक्टर पर बैठे थे पांच युवक पलटा; एक की मौत, चार लोग गंभीर
--Advertisement--

बांस लदे ट्रैक्टर पर बैठे थे पांच युवक पलटा; एक की मौत, चार लोग गंभीर

जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के जगन्नाथपुर-जैंतगढ़ मुख्यमार्ग की तोड़ागहातु पंचायत के कुंदरीजोड़ के कासिरा-बासिरा मोड़...

Danik Bhaskar | Mar 18, 2018, 02:35 AM IST
जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के जगन्नाथपुर-जैंतगढ़ मुख्यमार्ग की तोड़ागहातु पंचायत के कुंदरीजोड़ के कासिरा-बासिरा मोड़ पर बांस लदा ट्रैक्टर पलट गया। इस हादसे में 35 वर्षीय पारा हेंब्रम की मौत हो गई। जबकि 18 वर्षीय राजा तिरिया, 30 वर्षीय अरमान चातोम्बा, 40 वर्षीय गोविंद तिरिया व 40 वर्षीय सुखराम चातोम्बा गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना शनिवार की अपराह्न 2.30 बजे की है। सभी घायलों को इलाज के लिए जगन्नाथपुर के सामुदायिक स्वास्थ केंद्र में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद चालक मौके से फरार होने में सफल रहा। घटना कि जानकारी मिलते ही जगन्नाथपुर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घायलों को इलाज के लिए सामुदायिक स्वाथ्य केंद्र पहुंचाया। साथ ही मृतक के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजवाया। वहीं दुर्घटनाग्रस्त वाहन को कब्जे में ले लिया। कैप्टन चाम्पिया के नाम पर ये ट्रैक्टर है। जबकी चालक कुदाहातु का रहनेवाला है। ट्रैक्टर संख्या जेएच06जी- 4570 तोड़ागहातु पंचायत कोलमसाई गांव में बांस लाने के लिए गया था। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, चालक बांस लोड करने के बाद गांव में सगे सबंधी के साथ हड़िया पी लिया था। हड़िया पीने के बाद इसी गांव के पांचो युवकों को ट्रैक्टर पर बैठा लिया। इसके बाद नशे की हालत में तेज रफ्तार से सोसोपी जाने लगा। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, ट्रैक्टर जैसे ही कासिरा- बासिरा मोड़ से 100 मीटर पहले पहुंचा, ट्रैक्टर बबलिंग करने लगा। इसके बाद ट्रैक्टर का चक्का 100 मीटर तक घसीटते हुए मोड़ के पास पहुंचकर पलट गया।

चक्के से दबकर शव क्षत-विक्षत

ट्रैक्टर के पलटते ही उसपर सवार पारो हेंब्रम चक्के के नीचे दब गया। जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। कहा जा रहा है कि पारो हेंब्रम ट्रैक्टर के पहिए के नीचे करीब 100 मीटर तक घसीटता रहा। इस वजह से उसका शव क्षत-विक्षत हो गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, सोसोपी के पांचों युवक उक्त ट्रैक्टर लदे बांस के उपर नहीं बैठते लोग तो यह हादसा टल सकता था। ट्रैक्टर के डाला में बांस ना लाद कर डाला के उपर करीब चालिस बांस को लादा गया था। वहीं पांचों युवक डाला में ना बैठकर बांस के उपर बैठे थे। गाड़ी बबलिंग होने के कारण सभी सवार लोग सीधे सड़क पर गिर गए थे।