Hindi News »Jharkhand »Jagannathpur» भांग-जलेबी खिलाकर बारातियों का स्वागत

भांग-जलेबी खिलाकर बारातियों का स्वागत

चाईबासा व इसके आसपास के क्षेत्रों में शिवरात्रि का त्योहार धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान बुधवार को ही शहर के शहर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 15, 2018, 02:55 AM IST

चाईबासा व इसके आसपास के क्षेत्रों में शिवरात्रि का त्योहार धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान बुधवार को ही शहर के शहर के दर्जनभर शिवालयों में सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी रही। इन शिवालयों में बोलबम व ऊं नम: शिवाय के स्वर गूंजते रहे। श्रद्धालुओं व शिवभक्तों ने करणी मंदिर व पुलहातु नदी घाट आदि जगहों से जल उठकर शिव का अभिषेक किया। इसके बाद शिवलिंग की बेलपत्र, सम्मी, धतूरे के फल- फूल आदि से श्रृंगार भी की गई। साथ ही सुख- समृद्धि की कामना की। शिव का जलाभिषेक करने के लिए श्रद्धालुओं की अपराह्न 2 बजे तक कतारें लगी रही। वहीं शाम 4 बजे अमलाटोला, श्मशान काली के भूतनाथ मंदिर व पुलिस लाइन स्थित शिवालय से शिव की बारात निकाली गई। शिव की बारात में शामिल भूत-बैताल बने कलाकारों ने जहां बच्चों को डराया, वहीं बड़ों का मनोरंज भी किया। वहीं विभिन्न देवी- देवताओं के स्वांग रचकर कलाकार शिव बारात की झांकी में शामिल हुए। शिव बारात में शहर के करीब 20 हजार से ज्यादा श्रद्धालू व भक्त शामिल हुए।

योग मंदिर से निकली बारात

गुवा में महाशिवरात्री पूजा पर गुवा के तीनों शिवालयों कुसम घाट स्थित शिव मंदिर, योगनगर स्थित शिव मंदिर तथा स्टेशन कॉलोनी स्थित शिव मंदिर में हर हर महादेव से गूंज उठा। सुबह चार बजे से ही गुवा के तीनों शिवालयों में जलाभिषेक के लिए भक्तों का तांता लगने लगा। इस भीड़ को देखते हुए गुवा प्रसाशन ने भक्तों के जलाभिषेक के लिए लाईन लगाकर ही भक्तों को मंदिर प्रवेश द्वार में जाने दिया। साथ ही भगवान शिव की बारात निकालने की भी तैयारी चल रही है।

देवी-देवता, भूत-प्रेत के वेष में बाराती बने शिव भक्त

शहर के जैन मार्केट चौक पर बारातियों का स्वागत।

दुर्गाव सिद्धेश्वर मंदिर में पूजा

अमलाटोला शिवालय से निकली शिव की बारात में हजारों श्रद्धालू व भक्त शामिल थे। यह बारात शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए महुलसाई के पास बाबा सिद्धेश्वर नाथ मंदिर पहुंची। इस दौरान बारात के बारात में शामिल श्रद्धालु शिव के भक्ति गीत पर थिरकते रहे। इसी तरह श्मशान काली मंदिर परिसर के भूतनाथ मंदिर के शिवालय से निकली शिव बारात दुर्गा मंदिर पहुंची। बारातियों के पहुंचते ही खीर-पूड़ी व भांग के शर्बत व जलेबी खिलाकर जोरदार स्वागत किया।

भूत-पिशाच बन भोले बाबा की बारात मे निकले बच्चे।

डांगुवापोसी के ड्राइवर कॉलोनी व मालुका शिव मंदिर में पूजा- डांगुवापोसी के ड्राईवर क्लोनी व सेन्टर क्लोनी स्थित शिव मंदिर तथा मालुका स्टेशन समीप स्थित देवेश्वरनाथ मंदिर में भारी संख्या में श्रद्धालु भगवान शिव का जलाभिषेक किया। मालुका स्थित शिव मंदिर में भक्तों की कतार लगी रही। शिव भक्तों की सेवा के लिये महाशिव रात्री पूजा समिति के सदस्यों ने सहयोग किया।

हजारोंलोगों ने किया जलाभिषेक

शिवरात्रि के अवसर पर शहर व इसके आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के शिवालयों में 50 हजार से ज्यादा लोगों ने जलाभिषेक व पूजा- अर्चना की। इससे सिद्धेश्वर मंदिर, शंभू मंदिर, अमलाटोला शिवालय, पुलिस लाइन शिवालय, गाड़ीखाना शिवालय, टुंगरी आरओबी शिवालय, ऊपर टुंगरी शिवालय, श्मशान काली शिवालय, डोंकासाई शिवालय, करणी मंदिर शिवालय, गाड़ीखाना शिवालय, खप्परसाई शिवालय व घसिया शिव मंदिर में सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ जमी रही।

पोस्ट ऑफिस चौक के पास शिव बारातियों का अभिनंदन करते लोग।

पोस्टऑफिस चौक के पास देवघर मंदिर व महाकाल की झांकी।

देवी-देवता के वेष में बाराती में शामिल बच्चे।

किरीबुरू के तीन मंदिरों में हुआ जलाभिषेक

किरीबुरू में लोकेश्वर मंदिर, शांति स्थल मंदिर व मेघाहातुबुरू के काली मंदिर के शिवालयों श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक कर शिव की पूजा-अर्चना की। दिनभर पूजा के लिए मंदिरों में भीड़ लगी रही। श्रद्धालुओं ने भोले बाबा की पूजा कर आशीर्वाद लिया।

जगन्नाथपुर में जलाभिषेक करने के लिये इंतजार करते श्रद्धालु।

भोले बाबा की बारात मंे शामिल युवक।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jagannathpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×