--Advertisement--

संघ का पुनर्गठन, आरती बनीं अध्यक्ष

मसकल कार्यालय के सभागार में गुरुवार को जिला साक्षरता संघ का पुनर्गठन सर्व सम्मति से किया गया। इस दौरान संघ के 432...

Danik Bhaskar | Mar 16, 2018, 03:00 AM IST
मसकल कार्यालय के सभागार में गुरुवार को जिला साक्षरता संघ का पुनर्गठन सर्व सम्मति से किया गया। इस दौरान संघ के 432 प्रेरकों के बीच विभिन्न पदों का सृजन किया गया। आरती खंडाइत को सदर प्रखंड का अध्यक्ष बनाया गया, वहीं विकास कुमार बिरूवा को हाटगम्हरिया उपाध्यक्ष, वेद प्रकाश केसरी उपाध्यक्ष, हाटगम्हरिया,कमल किशोर मल्लिक सचिव हाटगम्हरिया, प्रियंका ईचागुटू सचिव खूंटपानी, गौरी शंकर दास उपसचिव हाटगम्हरिया,जानकी सुरीन उप सचिव सदर,श्याम सुंदर नायक कोषाध्यक्ष जगन्नाथपुर,मंगल कुम्हार कोषाध्यक्ष खूंटपानी, सुखन राम मुंडा,उप कोषाध्यक्ष चक्रधरपुर व फुलेश्वरी बिरूवा को मंझारी का उप कोषाध्यक्ष बनाया गया है। वहीं संघ का संरक्षक व संयोजक का नाम विचाराधीन रखा गया। इसके उपरांत संघ ने कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए। साथ ही अपनी मांगों के समर्थन में आवाज उठाने का फैसला किया। नव गठित संघ ने अपनी मांगों को हासिल करने के लिए संगठन को और मजबूत करने व संघ के बैनर तले आंदोलन करने का निर्णय लिया है। बैठक में मुख्य रूप से पिछले15 से20 माह का बकाया मानदेय यथाशीघ्र भुगतान करने,31 मार्च के बाद से साक्षरता अभियान को सरकार द्वारा सदा के लिए बंद किए जाने से साक्षरता अभियान से जुड़े बेरोजगार युवक युवतियां बेरोजगार हो जाएंगे। स्थिति को देखते हुए प्रेरकों को किसी भी विभाग में नियमितीकरण करने, इसके अलावे 25 मार्च को होने वाली आकलन सह जांच परीक्षा को रामनवमी के कारण स्थगित रखते हुए 31 मार्च को लेने की मांग की गई। नवगठित संघ ने मांगों को पूर्ण नहीं करने की स्थिति में चरणवद्ध तरीके से आंदोलन करने का निर्णय लिया है। बैठक मेंं किसनी बोयपाई, असीमा कुंकल, जानो अल्डा, पुनम बिरूवा, जानकी सुरेन आदि थीं।