Hindi News »Jharkhand »Jagannathpur» अनियमित बिजली आपूर्ति के विरोध में आज जगन्नाथपुर बंद

अनियमित बिजली आपूर्ति के विरोध में आज जगन्नाथपुर बंद

जगन्नाथपुर प्रखंड मुख्यालय में चरमराती बिजली व्यस्था को लेकर लोगों ने मोर्चा खोल दिया है। शनिवार को जगन्नाथपुर...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 05, 2018, 02:40 AM IST

जगन्नाथपुर प्रखंड मुख्यालय में चरमराती बिजली व्यस्था को लेकर लोगों ने मोर्चा खोल दिया है। शनिवार को जगन्नाथपुर बंद का आह्वान किया है। बिजली के तार व खंभे बदलने के नाम पर आवंटित 18 लाख रुपए बगैर कार्य किए हुए संवेदक द्वारा विभाग से सांठगांठ कर निकाल लेने को लेकर लोगों में रोष है। बताया गया कि 5 वर्ष पूर्व जगन्नाथपुर को प्रयाप्त बिजली उपलब्ध कराने के लिए अलग फीडर निर्माण की स्वीकृति दी गई थी। लेकिन विभाग के जगन्नाथपुर अनुमंडल के एसडीओ और संवेदक धनंजय कुमार सिंह के द्वारा कार्य नहीं करने व मरम्मत के नाम पर निकाले गए लाखों रुपए के विरोध में शनिवार को जगन्नाथपुर बंद रखने का निर्णय लिया गया है। इसे लेकर शुक्रवार की शाम नुक्कड़ सभा का आयोजन किया गया। जिला कांग्रेस के प्रधान महासचिव नवाज हुसैन के अध्यक्षता में नुक्कड सभा की गई। इस नुक्कड़ सभा में सभी वर्ग के दुकानदार और जगन्नाथपुर पंचायत के लोगों ने सामूहिक रूप से बंद रखने का समर्थन किया है। बताया गया की सरकार द्वारा बिजली बिल में बेतहाशा बढ़ोतरी की गई है। इससे शहर और गांव के ग्रामीण प्रभावित होंगे। जिला कांग्रेस प्रधान महासचिव नवाज हुसैन ने कहा कि इस सभा को सहज ना समझे यह उग्र आंदोलन का रूख ले रही है।

5 साल पहले फीडर निर्माण की दी गई थी स्वीकृति

पांच साल पहले जगन्नाथपुर का अलग फीडर निर्माण करने की स्वीकृति दी गई थी। विभाग प्राक्कलन बना लिया लेकिन काम ना कर राशि निकाल ली थी। वहीं हर साल बिजली मरम्मत के नाम पर भी राशि निकाल ली जाती है। पूर्व में जिस तरह तत्कालीन एसडीओ का घेराव कर थाने में बंधक बनाया गया था। वैसी स्थिति ना बने दुबारा। इसलिए विभाग जल्द जगन्नाथपुर का अलग फीडर का निर्माण कार्य पूरा करे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jagannathpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×